खोज

Vatican News
प्रतीकात्मक तस्वीर प्रतीकात्मक तस्वीर  (AFP or licensors)

ईश वचन रविवार 26 जनवरी को संत पापा का ट्वीट संदेश

काथलिक पंचाग के तीसरे सामान्य रविवार को संत पापा फाँसिस ने “ईश वचन रविवार” के रुप में मनाने की घोषणा की। यह समारोह ईश्वर के वचन को विश्वासियों के दैनिक जीवन का हिस्सा बनाता है।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, सोमवार 27 जनवरी, 2020 (रेई) : संत पापा फ्राँसिस ने 26 जनवरी ईश वचन रविवार को चार ट्वीट प्रेषितकर सभी ख्रीस्तियों से ईश वचन को पढ़ने और उसे आत्मसात करने और अपने जीवन में धारण हेतु प्रेरित किया।

पहला ट्वीटः “प्रभु आपको अपना वचन देता है, इसे आप उनके द्वारा लिखे एक प्रेम पत्र की तरह स्वीकार करें, जिससे आपको यह महसूस हो सके कि वे आपके साथ हैं।”

दूसरा ट्वीटः “आइये, हम ईश वचन के लिए अपने जीवन में जगह बनाएं! प्रत्येक दिन, हम बाईबल के एक या दो पद पढ़ें। हम जान पायेंगे कि ईश्वर हमारे बहुत करीब हैं, वे हमारे जीवन के अंधेरे को दूर करते हैं और बड़े प्यार से हमारे जीवन रुपी नौका को गहरे पानी में ले जाते हैं।”

तीसरा ट्वीटः “हमें ईश्वर के वचन की आवश्यकता है: ताकि हम अपने दैनिक जीवन में हजारों आवाजों के बीच उस आवाज को सुन सकें, जो हमें किसी चीज़ के बारे में नहीं, बल्कि जीवन के बारे में बताता है।”

चौथा ट्वीटः “ईश्वर का वचन हमें सांत्वना देता और प्रोत्साहित करता है। यह हमें चुनौती देता है, हमें हमारे स्वार्थ के बंधन से मुक्त करता है और हमें हृदय परिवर्तन की ओर अग्रसर करता है, क्योंकि ईश वचन में हमारे जीवन को बदलने और अंधकार से प्रकाश में ले जाने की शक्ति है।

27 January 2020, 16:50