खोज

Vatican News
प्रतीकात्मक तस्वीर प्रतीकात्मक तस्वीर  (AFP or licensors)

संत पापा द्वारा नर्सों और मिडवाईफ के कामों की प्रशंसा

संत पापा ने नर्सों और मिडवाईफ को विशेष रुप से याद किया। नर्स और मिडवाईफ के अंतरराष्ट्रीय वर्ष 2020 पर यूनिवर्सल हेल्थ कवरेज की उपलब्धि के लिए स्वास्थ्य सेवाएं और महत्वपूर्ण योगदान प्रदान करने में नर्स और मिडवाईफ की महत्वपूर्ण भूमिका होती है।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, सोमवार,20 जनवरी 2020 (रेई) : संत पापा फ्राँसिस ने रविवार 19 जनवरी को संत पेत्रुस महागिरजाघर के प्रांगण में देश-विदेश से आये तीर्थयात्रियों और विश्वासियों के साथ देवदूत की प्रार्थना की। इसके उपरांत उन्होंने नर्सों और मिडवाईफ को विशेष रुप से याद कर उनके कामों की प्रशंसा की और उनके लिए प्रार्थना करने हेतु वहाँ उपस्थित समुदाय को प्रेरित किया।

संत पापा ने कहा कि “2020 को नर्स और मिडवाईफ के अंतरराष्ट्रीय वर्ष के रूप में नामित किया गया है। स्वास्थ्य कर्मचारियों का सबसे बड़ा समूह नर्सों का हैं और मिडवाईफ शायद सबसे उदार पेशा है। आइए, हम उन सभी के लिए प्रार्थना करें, कि वे अपना बहुमूल्य कार्य सर्वोत्तम तरीके से कर सकें।”

नाइटिंगेल के जन्म का 200वां साल

विश्व स्वास्थ्य संगठन ने फ्लोरेंस नाइटिंगेल की 200 वीं जयंती को सम्मानित करने के लिए 2020 को नर्स और मिडवाईफ के वर्ष के रूप में नामित किया है। फ्लोरेंस नाइटिंगेल को दुनिया की पहली आधुनिक नर्स कहा जाता है। वे रात के समय अपने हाथों में एक दीपक लेकर रोगियों की सेवा किया करती थीं। इसीलिए उन्हें ‘दीपक के साथ एक महिला’ कहा जाता था।

अभियान का उद्देश्य

अंतरराष्ट्रीय वर्ष मनाने का मुख्य उद्देश्य नर्सिंग की स्थिति और प्रोफाइल को बढ़ाकर, विश्व स्तर पर स्वास्थ्य को बेहतर बनाना है, एक मजबूत नर्सिंग पेशे द्वारा हासिल किया गया प्रदर्शन और नर्सों को यूनिवर्सल हेल्थ कवरेज प्राप्त करने के लिए उनके योगदान को अधिकतम करने में सक्षम बनाना।

यूनिवर्सल हेल्थ कवरेज की उपलब्धि के लिए स्वास्थ्य सेवाएं और महत्वपूर्ण योगदान प्रदान करने में नर्सों और मिडवाईव्स की महत्वपूर्ण भूमिका होती है। मिडवाईव्स अद्वितीय पेशेवर हैं जो विशेषज्ञ नर्सिंग देखभाल प्रदान करते हैं और महिलाओं एवं उनके बच्चों के लिए प्राथमिक देखभाल प्रदान करने में सबसे आगे हैं।

20 January 2020, 16:29