खोज

Vatican News
सामाजिक अपडेट्स पत्रिका के संपादकीय करमचारियों के साथ- 06.12.2019 सामाजिक अपडेट्स पत्रिका के संपादकीय करमचारियों के साथ- 06.12.2019   (Vatican Media)

"सामाजिक अपडेट्स" पत्रिका के संपादकीय कर्मचारियों से

"सोशल अपडेट्स", इटली में मिलान के येसु धर्मसमाजियों द्वारा संचालित, इताली और अंतर्राष्ट्रीय सामाजिक, राजनीतिक एवं कलीसियाई मुद्दों पर गहन विश्लेषण की एक मासिक पत्रिका है, जो विगत 70 वर्षों से द्रुत गति से बदलते विश्व में पाठकों का मार्गदर्शन करती आई है।

जूलयट जेनेवीव क्रिस्टफर-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, शुक्रवार, 6 दिसम्बर 2019 (रेई,वाटिकन रेडियो): वाटिकन में शुक्रवार को "सोशल अपडेट्स" नामक पत्रिका के संपादकीय कर्मचारियों ने सन्त पापा फ्राँसिस का साक्षात्कार कर उनका सन्देश सुना।

भ्रमित युवाओं के प्रति क़ीमती सेवा

"सोशल अपडेट्स", इटली में मिलान के येसु धर्मसमाजियों द्वारा संचालित, इताली और अंतर्राष्ट्रीय सामाजिक, राजनीतिक एवं कलीसियाई मुद्दों पर गहन विश्लेषण की एक मासिक पत्रिका है, जो विगत 70 वर्षों से द्रुत गति से बदलते विश्व में पाठकों का मार्गदर्शन करती आई है।

सन्त पापा फ्राँसिस ने संपादकीय कर्मचारियों का अभिवादन किया तथा कहा कि उक्त मासिक पत्रिका बदलती दुनिया में पाठकों को सही दिशा के प्रति उन्मुख करने में सहायक है। उन्होंने कहा कि त्वरित परिवर्तनों के काल में यह पत्रिका, विशेष रूप से, खोये हुए और भ्रमित युवाओं के प्रति एक कीमती सेवा प्रस्तुत करती है।  

पवित्रआत्मा की आवाज़ सुनें

सन्त पापा ने कहा कि खुद को उन्मुख करने का अर्थ है यह समझना कि हम कहाँ हैं, हमारा सन्दर्भ बिन्दु क्या है और फिर तय करना कि हमें किस दिशा में आगे बढ़ना है। उन्होंने कहा, वस्तुतः, यह विवेक का काम है जो हमें अपनी सामाजिक यात्रा के दौरान पवित्रआत्मा की आवाज़ को पहचानने में मदद करता है। उन्होंने कहा, पवित्रआत्मा की आवाज़ को पहचानना, उसके संकेतों की व्याख्या करना और उस आवाज़ का अनुसरण करने का चयन करना सीखना ही सफलता की कुँजी है।

सन्त पापा ने पत्रकारों एवं संपादकों से कहा कि उक्त पत्रिका में जैविकी, असमानता और आप्रवास से जुड़ी समस्याएँ, मौजूदा राजनीतिक परिदृश्य, अर्थव्यवस्था, पर्यावरण की देखभाल और जनकल्याण जैसे जटिल एवं विवादास्पद मुद्दों का विश्लेषण किया जाता है तथापि, इसमें निर्धनों एवं हाशिये पर जीवन यापन करनेवालों की मदद हेतु समाज में चेतना जागरम के कार्य को नहीं भुलाया जाना चाहिये।  

06 December 2019, 12:02