खोज

Vatican News
पिलो अल्बर्टेली स्कूल में संत पापा फ्राँसिस पिलो अल्बर्टेली स्कूल में संत पापा फ्राँसिस  (Vatican Media)

संत पापा ने रोम के पिलो अल्बर्टेली स्कूल का दौरा किया

संत पापा फ्राँसिस ने शुक्रवार को रोम के पिलो अल्बर्टेली राजकीय हाई स्कूल का अचानक दौरा कर शिक्षकों, कर्मचारियों और छात्रों को ख्रीस्त जयंती की शुभकामनायें दी।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

रोम, शनिवार 21 दिसम्बर 2019 (वाटिकन न्यूज) : संत पापा फ्राँसिस ने शुक्रवार शुबह को रोम में संत मरिया मेजर महागिरजाघर के करीब स्थित पिलो अल्बर्टेली राजकीय हाई स्कूल का दौरा कर विद्याथियों और शिक्षकों को आश्चर्य में डाल दिया। संत पापा के साथ ‘ओसरवातोरे रोमानो’ समाचार पत्र के निदेशक एंड्रिया मोंडा, जो उस स्कूल में एक पूर्व धर्म शिक्षक थे। संत पापा के साथ संस्थान के डीन भी थे। संत पापा ने शिक्षकों, कर्मचारियों और छात्रों का अभिवादन किया जिन्होंने वर्ष 2018 के पवित्र शुक्रवार के क्रूस रास्ता धर्मविधि के लिए मनन ध्यान और प्रार्थनाएँ लिखी था।

जब संत पापा स्कूल के कैंम्पस में प्रवेश किया तो करीब 800 छात्रों ने संत पापा का स्वागत किया। कुध छात्रों ने अभिनंदन गीत गाया और स्कूल के प्रधानाध्यापक ने संत पापा को स्कूल परिवार की ओर से स्वागत किया। संत पापा फाँसिस ने भी कुध छात्रों द्वारा पूछे गये सवालों का जवाब दिया।

उन्होंने अकेलेपन के बारे में पूछे जाने पर कहा कि अगर इसे सही तरह से नियंत्रण नहीं किया गया तो यह व्यक्ति को उदासी की ओर जाता है। स्वतंत्र रूप से दिया गया प्यार, एक मुश्किल मार्ग है, जिसके लिए "छोटी-छोटी कुर्बानियों" देनी पड़ती है और अकेलेपन से "खुद को वापस लाने" की ज़रूरत होती है।

विभिन्न संस्कृतियों और धर्मों के सह-अस्तित्व के बारे में एक सवाल के जवाब में, संत पापा फ्राँसिस ने प्रवासन के बारे में बातें की। उन्होंने बताया कि अपने देश, अर्जेंटीना में भी और उन्होंने सद्भाव में एक साथ रहने की आवश्यकता को कैसे आगे बढ़ाया। गैर-विश्वासियों को संबोधित करते हुए, उन्होंने गवाह के मूल्य पर जोर दिया ताकि सुसमाचार और विश्वास के बारे में जिज्ञासा जागृत हो सके।

एक "सच्चे शिक्षक" के बारे में एक सवाल का जवाब देते हुए, संत पापा ने युवाओं को खेलने और सपने देखने के महत्व को याद दिलाया, जो "आत्मा में ऑक्सीजन लाता है।" इसके बाद उन्होंने शिक्षकों और छात्रों के बीच संबंधों पर विचार किया। एक उपहार जिसे खुद अपने आध्यात्मिक फादर, मिगुएल एंजेल फियोरितो के बारे में बोलते हुए हाल ही में याद किया था।

जब घंटी बजी, तो संत पापा ने वहाँ उपस्थित सभी युवा लोगों को क्रिसमस की हार्दिक शुभकानायें दी और जाने से पहले शांति और सुरक्षा बनाने के लिए युद्ध का उपयोग करने के विरोधाभास के बारे में एक युवा छात्र का आखिरी सवाल का जवाब दिया। कुछ देशों की दुखद स्थितियों का हवाला देते हुए, संत पापा ने शुक्रवार को वाटिकन में संयुक्त राष्ट्र के महासचिव के साथ अपनी बैठक के अंत में रिकॉर्ड किए गए शांति के विषय पर अपने वीडियो संदेश को संदर्भित किया।

21 December 2019, 13:57