खोज

Vatican News
पुर्तगाल में हुआ वर्ष 2018 का तेजे प्रार्थना सभा पुर्तगाल में हुआ वर्ष 2018 का तेजे प्रार्थना सभा 

पोलैंड में आयोजित बैठक में युवाओं को संत पापा का संदेश

तेजे समुदाय, पोलैंड के व्रोकला में हो रहे युवा लोगों की 42वीं यूरोपीय बैठक को प्रायोजित कर रहा है।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

व्रोकला, शनिवार 28 दिसम्बर 2019 (वाटिकन न्यूज) :  28 दिसंबर 2019 से 1 जनवरी 2020 तक होने वाले 42 वें यूरोपीय युवा बैठक के लिए हजारों युवा लोग पोलैंड के व्रोकला शहर में एकत्रित हुए हैं। यह तीसरी बार है जब व्रोकला ने बैठक की मेजबानी की है और कुल मिलाकर पांच बार पोलैंड में बैठक का आयोजन किया गया है।

तेजे वेबसाइट के अनुसार वार्षिक यूरोपीय सभा, "चालीस से भी अधिक वर्षों से इस बैठक की अगुवाई करती आ रही है। यह विश्वास में आगे बढ़ने हेतु एक तीर्थयात्रा है। प्रतिभागियों को "एक साथ प्रार्थना करने, स्थानीय कलीसिया का हिस्सा बनने ... और शांति, विश्वास से संबंधित सवालों और सामाजिक प्रतिबद्धता  जैसे विषयों को गहराई से समझने का अवसर दिया जाता है।"

इस वर्ष की सभा का विषय है: “हमेशा आगे बढ़ना, कभी निर्मूल न होना।”

प्रार्थना में निपुणता

हर साल की तरह इस वर्ष भी संत पापा फ्राँसिस ने प्रतिभागियों के लिए संदेश भेजा जिसे वाटिकन सचिव कार्डिनल पियेत्रो परोलिन ने पढ़ सुनाया। कार्डिनल परोलिन ने कहा कि बैठक संत पापा जॉन पॉल द्वितीय की मातृभूमि पोलैंड में हो रही है, उनके उत्तराधिकारी, संत पापा फ्राँसिस" प्रार्थना में उनके साथ हैं और उन्हें इस सभा के लिए चुने गए विषय का गहराई से समझने हेतु प्रोत्साहित करते हैं।

कार्डिनल परोलिन ने कहा "पोलैंड एक ऐसा देश है जो विश्वास में अपनी जड़ें जमाये हुए है और जब आशा बिखर गई थी" तब भी विश्वास के कारण ही पोलैंड के लोग "महान परीक्षणों में दृढ़ बने रहे। इन ख्रीस्तियों में “एक और भविष्य में विश्वास करने की हिम्मत है।”

विश्वास दूसरों तक पहुँचाना

कार्डिनल पारोलिन ने युवा लोगों को एक दूसरे के अनुभव और उदाहरण से सीखने के लिए प्रोत्साहित किया। उन्होंने कहा, “आपको यह जानने की जरुरत है कि किस हद तक आप अपने विश्वास में दृढ़ हैं आप अपने विश्वास को दूसरों तक पहुँचाने के लिए बुलाये गये हैं। हमारे समाजों की नई चुनौतियों का जवाब देने के लिए, विशेष रूप से हमारे आम घर की सुरक्षा के लिए काम करने हेतु आप हरदम तैयार रहें।”  

उन्होंने कहा,  “आप युवा लोगों को अब्राहम की तरह "कभी-कभी यात्रा को पहले से तय किए बिना ... एक यात्रा पर निकलने में बहुत आनंद आयेगा। हमेशा नए प्रस्थान के लिए तैयार रहें। अपने पड़ोसियों और विशेष रुप से गरीब और बेसहारा लोगों के बीच जाकर सुसमाचार के गवाही दें।”  

कार्डिनल पारोलिन ने नौजवानों को आश्वासन दिया कि संत पापा फ्राँसिस सभी युवाओं को, तेजे समुदाय को, उन पल्लियों और परिवारों को अपना आशीर्वाद भेजते हैं जो सभा में भाग लेने आये युवाओं की मेजबानी कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि जिस तरह मरियम एलिजबेद की मदद हेतु तुरंत अपने घर से निकल पड़ी (सीएफ लूक, 1:39), वही माता मरियम, आपको अपने बेटे में विश्वास को बनाये रखने और दूसरों तक पहुँचाने में आपकी मदद करें।  

28 December 2019, 14:23