खोज

Vatican News
पियाजा स्पान्या में संत पापा फ्राँसिस प्रार्थना करते हुए पियाजा स्पान्या में संत पापा फ्राँसिस प्रार्थना करते हुए 

निष्कलंक माता मरियम से पापियों के लिए प्रार्थना

माता मरियम के निष्कलंक गर्भाधान त्योहार के अवसर पर संत पापा फ्राँसिस ने रोम के पियाज़ा दी स्पान्या का दौरा किया और माता मरियम से भ्रष्टाचार और पाप मुक्त हृदय के लिए प्रार्थना की।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

रोम, सोमवार 9 दिसम्बर 2019 (वाटिकन न्यूज) : संत पापा फ्राँसिस ने रविवार 8 दिसम्बर दोपहर को परंपरानुसार रोम स्थित पियाज़ा दी स्पान्या पहुँचे। वहाँ रोम की महापौर विर्जीनिया राज्जी ने संत पापा का स्वागत किया। संत पापा ने प्राचीन रोमन स्तंभ के ऊपर माता मरिया की प्रतिमा के सामने प्रार्थना की।

 संत पापा ने रोम और दुनिया भर के उन सभी को माता मरियम को सौंपा, जो पाप के कारण हतोत्साहित,“बोझ” से दबे हुए हैं; वे लोग सोचते हैं कि उनके लिए अब कोई उम्मीद नहीं है,  उनका पाप बहुत अधिक और बहुत बड़ा हैं और वे सोचते हैं कि ईश्वर के पास भी निश्चित रूप से उनके लिए समय नहीं है।

संत पापा ने निष्कलंक माँ मरियम को हमें यह याद दिलाने के लिए धन्यवाद दिया, कि येसु के प्यार के कारण "हम अब पाप के गुलाम नहीं हैं, लेकिन स्वतंत्र हैं, एक दूसरे से प्यार करने के लिए स्वतंत्र हैं। अपने मतभेदों के बावजूद, हम एक दूसरे की अपने भाईयों और बहनों के समान मदद करने के लिए स्वतंत्र हैं।"

धन्य पापा पियुस नवें

12 मीटर ऊंचे प्राचीन रोमन स्तंभ के ऊपर माता मरिया की मूर्ति को 8 सितंबर 1857 को यहां रखा गया था और धन्य पापा पियुस नवें ने निष्कलंक गर्भाधान के धर्मसिधांत (डोगमा) की घोषणा करते हुए कहा कि मरियम एकमात्र मानव है जो मूल पाप के बिना पैदा हुई थी।

प्रभुसेवक पियुस बारहवें

स्तंभ और प्रतिमा को मूल रूप से 220 फायरमैन की मदद से बनाया गया था, यही वजह है कि रोम की अग्नि विभाग के एक सदस्य द्वारा पुष्प श्रद्धांजलि में हमेशा माता मरियम के हाथों में फूलों की एक माला पहनाई जाती है। इस पर्व के दिन यहाँ उनकी प्रतिमा को पुष्प अर्पित करने की परंपरा प्रभु-सेवक पापा पियुस बारहवें द्वारा शुरू की गई थी और आज भी जारी है।

09 December 2019, 15:39