खोज

Vatican News
सालुस पोपोली रोमानी का प्राचीन आइकन सालुस पोपोली रोमानी का प्राचीन आइकन  (©Pavel Losevsky - stock.adobe.com)

थाईलैंड, जापान यात्रा के बाद माता मरियम का दर्शन

विदेश में अपनी 32 वीं प्रेरितिक यात्रा के अंत में रोम, फ्युमिचिनो हवाई अड्डे में उतरने के बाद वाटिकन जाने से पहले, संत पापा फ्राँसिस ने संत मरिया मेजर महागिरजाघर में प्रार्थना की।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

रोम, बुधवार 27 नवम्बर 2019 (वाटिकन न्यूज) :  सं पापा फ्राँसिस को टोकियो से वापस लाने वाला अल्ल निप्पॉन एयरवेज (एएनए) विमान ने मंगलवार शाम को रोम के फ्युमिचिनो अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर उतरा।

जैसा कि उनकी एक परंपरा रही है, विदेश में प्रेरितिक यात्रा से पहले और बाद में संत पापा रोम के सबसे बड़े गिरजाघर का दौरा करते हैं जो माता मरियम को समर्पित है।

हवाई अड्डे से वाटिकन लौटने से पहले, संत पापा संत मरिया मेजर गिरजाघर गये और अपनी 19 से 26 नवंबर तक थाईलैंड और जापान यात्रा के सफल समापन के लिए धन्यवाद दिया।

संत पापा ने गिरजाघर के सालुस पोपोली रोमानी के प्राचीन आइकन के सामने फूलों का एक गुलदस्ता रखा और कुछ क्षण मौन प्रार्थना में बिताया। लैटिन शीर्षक "सालुस पोपुली रोमानी" का अर्थ है ‘रोम वासियों की संरक्षिका’।

उसके बाद संत पापा वाटिकन अपने निवास स्थान के लिए प्रस्थान किये।

संत पापा फ्राँसिस को सालुस पोपुली रोमानी माता मरियम के प्रति विशेष भक्ति है, पहली बार 14 मार्च, 2013 को उनके चुनाव के बाद, संत मरिया मेजर महागिरजाघर का दौरा परमाध्यक्ष रूप में किया था।

27 November 2019, 15:43