खोज

Vatican News
डॉन कार्लो नोक्की फाऊँडेशन के सदस्यों के साथ संत पापा फ्राँसिस डॉन कार्लो नोक्की फाऊँडेशन के सदस्यों के साथ संत पापा फ्राँसिस 

योग्यता एवं करुणा को मिलायें, डॉन नोक्की न्यास से संत पापा

संत पापा फ्राँसिस ने बृहस्पतिवार को वाटिकन में डॉन कार्लो नोक्की फाऊँडेशन के सदस्यों से मुलाकात की। दल में फाऊँडेशन के संचालक, चिकित्सक, कर्मचारी, स्वयंसेवक और रोगी तथा उनके परिवारों के सदस्य भी उपस्थित थे।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, बृहस्पतिवार, 31 अक्टूबर 2019 (रेई)˸ डॉन कार्लो नोक्की न्यास एक गैर-लाभकारी संगठन है जो इटली में 28 नर्सिंग हॉम, स्वास्थ्य देखभाल और पुनर्वास केंद्रों का संचालन करता है। इसकी स्थापना 60 साल पहले एक इताली पुरोहित डॉन कार्लो नोक्की के द्वारा की गयी थी। उनका निधन 1956 में हुआ और सन् 2009 में उन्हें धन्य घोषित किया गया।   

धन्य डॉन कार्लो नोक्की

संत पापा ने धन्य डॉन कार्लो नोक्की की याद कर कहा, "वे एक उदारता के प्रेरित थे जिन्होंने ख्रीस्त की महान सेवा बच्चों, युवाओं, गरीबों एवं पीड़ितों में किया।" डॉन कार्लो नोक्की एक मीलिटरी चैपलिन थे। द्वितीय विश्व युद्ध के दौरान और उसके बाद उन्होंने घायलों एवं मरनासन्न में पड़े लोगों की अथक सेवा की। उन्होंने एक संगठन की स्थापना की जिसके द्वारा युद्ध के दौरान अनाथों और घायल बच्चों की सहायता की जा सके।

डॉन नोकी फाऊँडेशन

संत पापा ने फाऊंडेशन के सदस्यों को सम्बोधित कर कहा, "धन्य कार्लो नोक्की की देखभाल, सौम्यता एवं संवेदनशीलता से प्रेरित होकर वे समाज सेवा, स्वास्थ्य की देखभाल एवं सभी के जीवन में सुसमाचार प्रचार के ठोस कार्यों को करने के लिए बुलाये गये हैं। यद्यपि समय बदल चुका है फिर भी यह महत्वपूर्ण है कि धन्य डॉन कार्लो नोक्की के मनोभाव के साथ कार्यों को आगे बढ़ाया जाए।"

योग्यता और करुणा

संत पापा ने कहा कि हमारे बीमार भाइयों एवं बहनों के स्वास्थ्य की देखभाल हेतु सेवाएं प्रदान करने का अर्थ और मूल्य, "योग्यता और करुणा को एक साथ मिलाने की क्षमता" में दर्शाया गया है। योग्यता प्रशिक्षण, अनुभव और अद्यतन रहने का फल है। यह एक गारंटी है "जब आप संस्कृति के संबंध में धारा के खिलाफ जाते हैं", "जब आप समय और संसाधनों को नाजुक जीवन के लिए समर्पित करते हैं।"

करुणा का अर्थ है उनके साथ पीड़ित होना। एक समाज जो न स्वागत करता, न रक्षा और न ही पीड़ितों को आशा प्रदान कर सकता है वह एक ऐसा समाज है जिसने अपनी करूणा एवं मानवता की भावना को खो दी है। उन्होंने कहा कि सामाजिक संदर्भ में, जो एकजुटता से अधिक दक्षता का पक्षधर है, आपकी संस्थाएँ आशा के घर हैं जिसका उद्देश्य बीमारों, विकलांगों और बुजुर्गों की सच्ची भलाई की रक्षा करना और बढ़ाना है।

सहानुभूति और कोमलता

संत पापा ने डॉन नोक्की फाउंडेशन के सदस्यों को बीमारी और विकलांगता के चुनौतीपूर्ण मोर्चे पर सबसे ज्यादा जरूरतमंद लोगों की सेवा करने का आमंत्रण दिया। उन्होंने कहा कि वे शरीर के लिए सबसे उन्नत चिकित्सा और तकनीकों के साथ-साथ, उन माध्यमों द्वारा सेवा करें जो आत्मविश्वास के साथ आत्मा की दवाओं की ओर मोड़ते हैं, अर्थात् ईश्वर की सांत्वना और कोमलता।

31 October 2019, 17:17