खोज

Vatican News
काथलिक प्रेस के इताली संघ से वाटिकन में मुलाकात करते संत पापा काथलिक प्रेस के इताली संघ से वाटिकन में मुलाकात करते संत पापा  (ANSA)

काथलिक प्रेस से संत पापा ˸ आवाजहीन लोगों की आवाज बनें

संत पापा फ्राँसिस ने काथलिक प्रेस के इताली संघ से वाटिकन में मुलाकात की और उन्हें स्मरण दिलाया कि शांति के शब्दों द्वारा वे बुराई और अच्छाई के बीच अंतर जानने में मदद कर सकते हैं।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, मंगलवार, 24 सितम्बर 2019 (रेई)˸ संत पापा ने इताली काथलिक प्रेस के सदस्यों को प्रोत्साहन दिया कि वे अपने संस्थापक के स्वप्न को आगे बढ़ायें, जिनके अनुसार संस्था को एक पेशेवर एवं कलीसियाई संगठन होनी चाहिए। उसे मानव, सुसमाचार और कलीसिया की धर्मशिक्षा की सेवा के लिए समर्पित होना चाहिए। 

अच्छाई और बुराई

उन्होंने कहा कि पत्रकार इतिहास के कालक्रम लिखने वाले होते हैं, अतः उन्होंने उनसे अपील की कि वे अंतःकरण की आवाज बनें। एक ऐसी पत्रकारिता करें जो अच्छाई और बुराई की पहचान करने में मदद करे तथा अमानवीय से मानवीय का चुनाव कराये।

संत पापा ने कहा, "हर कीमत पर सच्चाई बोलें, हमेशा सम्मानपूर्ण बर्ताव करें और कभी अभिमानी न बनें।"

विश्व का निर्माण करने वाले शब्द

संत पापा ने कई खाली शब्दों के बीच सच्चे शब्दों का महत्व बतलाया। उन्होंने कहा, "आपके शब्द विश्व का वर्णन करते एवं उसे आकार प्रदान करते हैं। आपकी कहानियाँ स्थान बना सकती हैं जहाँ स्वतंत्रता अथवा दासता, जिम्मेदारी अथवा शक्ति पर निर्भरता को बढ़ावा दिया जा सकता है।  

केवल शांति, न्याय और एकात्मता के शब्दों का प्रयोग करने के द्वारा एक अधिक न्यायपूर्ण एवं सहयोगी समाज का निर्माण किया जा सकता है। अतः उन्होंने कहा कि वे गलत और विनाशकारी शब्दों को दिखाना जारी रखें।

प्राथमिकता

संत पापा ने डिजिटल युग में पत्रकारिता की समस्या पर चर्चा करते हुए कहा कि वेबसाईट के साथ विश्वासनीय स्रोत, प्रासंगिकता, व्याख्या और सबसे बढ़कर, प्राथमिकता को बतलाना जरूरी है। उन्होंने कहा कि "समाचार के क्रम को बदलने से न डरें, ताकि उन लोगों की आवाज को सुनाया जा सके जो आवाजहीन हैं।"

24 September 2019, 16:31