खोज

Vatican News
बाईबल और जलती हुई मोम बत्ती बाईबल और जलती हुई मोम बत्ती 

बाईबल ईश्वर का जीवित वचन है, संत पापा

बाईबल ईश्वर का जीवित वचन है, संत पापा ने ट्वीट प्रेषित कर सभी ख्रीस्तियों को बाईबल वचन के अनुसार जीवन जीने हेतु प्रेरित किया।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, सोमवार 1 जुलाई 2019 (रेई) : पवित्र बाईबल में हम पढ़ते हैं, “आदि में शब्द था, शब्द ईश्वर के साथ था और शब्द ईश्वर था। वह आदि में ईश्वर के साथ था। उसके द्वारा सबकुछ उत्पन्न हुआ और उसके बिना कुछ भी उत्पन्न नहीं हुआ। उस में जीवन था और वह जीवन मनुष्यों की ज्योति थी।”(संत योहन,1:1-4) संत पापा फ्राँसिस ने ट्वीट प्रेषित कर सभी ख्रीस्तियों को बाईबल के वचन अनुसार जीवन जीने हेतु प्रेरित किया।

1 जुलाई का ट्वीट

1 जुलाई के ट्वीट संदेश में उन्होंने लिखा, “बाईबल न केवल एक सुंदर और शेल्फ पर रखने की किताब है बल्कि यह बोया जाने वाला जीवन का वचन है। यह एक उपहार है जिसे पुनर्जीवित येसु मसीह हमें स्वीकार करने को कहते हैं जिससे कि हम उनके नाम पर जीवन जी सकें।”

30 जून का ट्वीट

30 जून के ट्वीट में संत पापा ने लिखा, “हम सभी कई बार मुश्किल दिनों के दौर से गुजरते हैं, लेकिन हमें हमेशा याद रखना चाहिए कि जीवन एक उपहार है। यह एक चमत्कार ही है कि ईश्वर ने कुछ नहीं से हमारी सृष्टि की।

01 July 2019, 16:26