खोज

Vatican News
रूसी पनडुब्बी दुर्घटना रूसी पनडुब्बी दुर्घटना 

रूसी पनडुब्बी के पीड़ितों के प्रति संत पापा की संवेदना

संत पापा फ्राँसिस ने रूसी पनडुब्बी की त्रासदी का समाचार पाकर पीड़ितों के प्रति संवेदना प्रकट की।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, बुधवार, 3 जुलाई 2019 (रेई) : पत्रकारों के सवालों का जवाब देते हुए, वाटिकन प्रेस कार्यालय के "अंतरिम" निदेशक अलेसांद्रो जिसोत्ती ने कहा, "संत पापा फ्राँसिस को रूसी पनडुब्बी की त्रासदी से अवगत कराया गया। उन्होंने पीड़ितों के परिवारों और इस आपदा से प्रभावित लोगों के प्रति अपनी संवेदना और अपनी निकटता व्यक्त की।"

आज बैरेट्स सागर में एक रूसी पनडुब्बी में एक रहस्यपूर्ण तरीके से वरिष्ठ 14 रूसी नाविक मारे गए। रिपोर्टर बाजा के अनुसार, विषाक्त धूएँ से चौदहों की मौत हो गई।

मास्को ने अत्यधिक संवेदनशील गहरे समुद्र के जहाज ‘लॉसहर्क’ पर आपदा का कुछ विवरण देते हुए गैस विस्फोट के दावों से इनकार किया है।

कोमर्सेंट समाचार पत्र ने बताया कि सभी अधिकारी पीड़ितों को पीटरहॉफ़ के "टोप सीक्रेट" सैन्य इकाई संख्या 45707 में सूचीबद्ध किया गया था।

टीएएसएस  के अनुसार, राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने कहा, "यह जहाजों के बेड़े के लिए और सेना के लिए सामान्य रूप से बड़ा नुकसान है।" "चालक दल पेशेवर था... 14 मृतकों में से सात पहले रैंक के कप्तान थे और दो रूस के हीरो थे।"

राष्ट्रपति पुतिन ने रक्षा मंत्री सर्गेई शोइगू को घटना क्षेत्र में भेजा, उन्हें निर्देश दिया कि जो कुछ हुआ उसकी जांच की प्रगति पर सीधे उन्हें रिपोर्ट करें। रूसी राष्ट्रपति ने स्वीकार किया: "यह एक साधारण पोत नहीं है, जैसा कि हम जानते हैं। "यह एक वैज्ञानिक-अनुसंधान पोत है, इसका चालक दल अत्यधिक पेशेवर है।"

03 July 2019, 15:33