Cerca

Vatican News
इटली के मरचेराता प्रांत स्थित कमेरिनो शहर जहाँ संत पापा फ्राँसिस रविवार को दौरा करेंगे इटली के मरचेराता प्रांत स्थित कमेरिनो शहर जहाँ संत पापा फ्राँसिस रविवार को दौरा करेंगे 

संत पापा रविवार को भूकम्प प्रभावित शहर कमेरिनो जायेंगे

संत पापा फ्राँसिस रविवार 16 जून को इटली के मरचेराता प्रांत स्थित कमेरिनो शहर का दौरा करेंगे। महापौर के अनुसार भूकम्प प्रभावित यह क्षेत्र करीब भुला दिया गया है किन्तु संत पापा की यात्रा लोगों का ध्यान पुनः इस शहर की ओर खींचेगा।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, शनिवार, 15 जून 2019 (रेई)˸ वाटिकन सूत्रों के अनुसार संत पापा फ्राँसिस रविवार को इटली के कमेरिनो शहर का  दौरा करेंगे और वहाँ के महापौर सांद्रो सबोर्जा से मुलाकात करेंगे।

महापौर सांद्रो सबोर्जा ने बतलाया कि घरों के मरम्मत का कार्य बहुत धीमी गति से चल रहा है और शहर के ऐतिहासिक केंद्र में अभी भी खतरा है।

संत पापा फ्राँसिस द्वारा शहर की यात्रा पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए उन्होंने कहा, "उनकी उपस्थिति ही हमारे लिए आनन्द तथा आशा का कारण है क्योंकि इसके द्वारा सरकार एवं जिम्मेदार लोगों का ध्यान 2016 में आये भूकम्प की ओर खींचेगा। मैं उन्हें धन्याद देना चाहता हूँ तथा कमेरिनो में उनके साथ अनोखे समय को व्यतीत करना चाहता हूँ।  

पुनःनिर्माण कार्य किस तरह चल रहा है, क्या इसके लिए काम शुरू हो चुका है?

महापौर ने उत्तर दिया, दुर्भाग्य से इसका काम शुरू नहीं हुआ है। पुनःनिर्माण का काम बहुत धीमी गति से आगे बढ़ रहा है। कमेरिनो में काम धीरे चल रहा है जिसका भार नये प्रशासन को सम्भालना पड़ेगा। हम शहर में क्षति को अच्छी तरह समझने की कोशिश कर रहे हैं ताकि पुनर्निर्माण का कार्य शुरू किया जा सके।

कमेरिनो के सामाजिक जीवन को भूकम्प ने किस तरह प्रभावित किया है? इसमें परिवर्तन मानवीय संबंधों में किस तरह बदलाव लायेगा।

महापौर ने कहा कि भूकम्प ने इस पूरे क्षेत्र के जीवन को निश्चय ही अस्त-व्यस्त कर दिया है किन्तु यह भी सच है कि संकट के समय में हमने अनुभव किया है कि समुदाय को अपने आप में सशक्त होने की जरूरत है। इस नयी परिस्थिति का सामना करना सचमुच आसान नहीं है किन्तु हमें यह आशा बनाये रखना चाहिए कि हम जल्द ही अपने शहर में आनन्द से लौट जायेंगे तथा अपने घरों को पुनः प्राप्त करेंगे।  

कमेरिनो में संत पापा की यात्रा का एक महत्वपूर्ण समय होगा, भूकम्प के कारण अस्थायी घरों में रह रहे लोगों से मुलाकात। वहाँ कितने लोग रहते हैं तथा देश के जीवन में कितना अधिक शामिल हो सकते हैं?

इसकी जानकारी देते हुए कमेरिनो के महापौर ने कहा कि इस क्षेत्र में कुल 311 अस्थायी आवास निर्मित हैं जिसमें करीब 634 लोग रहते हैं। इससे स्पष्ट है कि वे आपातकालीन अस्थायी घरों में हैं तथा नगरपालिकाओं को इस बात पर ध्यान देना चाहिए कि वे सेवाओं से वंचित न हो जाएँ, बुजुर्ग न छोड़ दिए जाएँ, उन्हें आवश्यक ध्यान दिया जाए ताकि वे कभी भी परित्यक्त महसूस न करें। अकेलापन सबसे खराब चीज है।

कमेरिनो में 2016 में आये भूकम्प के कारण वहाँ के घरों क साथ साथ, महागिरजाघर भी बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गया है। संत पापा फ्राँसिस इसका भी दौरा करेंगे। वे यहाँ रूककर प्रार्थना भी करेंगे।  

संत मरियम को समर्पित इस महागिरजाघर का पुनःनिर्माण भुकम्प से 1799 में क्षतिग्रस्त होने के बाद 18वीं शताब्दी के आरम्भ में किया गया था। 2016 में आये भुकम्प से यह पुनः क्षतिग्रस्त हो गया है। इस महागिरजाघर के सामने कबूर का प्रांगण (पियात्सा कबूर) है जहाँ वे इस अवसर पर ख्रीस्तयाग अर्पित करेंगे।  

15 June 2019, 15:24