खोज

Vatican News
येसु के परम पवित्र हृदय की प्रतिमा येसु के परम पवित्र हृदय की प्रतिमा 

येसु का हृदय अपार प्रेम और करुणा से भरा हुआ है, संत पापा

संत पापा फ्राँसिस ने संत पेत्रुस और संत पौलुस का पर्व दिवस पर तथा येसु के परम पवित्र हृदय के महापर्व के दिन पर ट्वीट कर सभी ख्रीस्तियों के उदार हृदय से येसु के पास जाने और अपने ज़रूरतमन्द भाइयों की मदद हेतु उनकी असीम दया में शामिल होने के लिये आमंत्रित किया।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, शनिवार 29 जून 2019 (वाटिकन न्युज) : काथलिक कलीसिया आज 29 जून को कलीसिया के दो बड़े आधार संत पेत्रुस और संत पौलुस का पर्व दिवस मनाती है ये दोनों महान संत रोम शहर के संरक्षक संत भी हैं। आज रोम और वाटिकन सिटी में सार्वजनिक छुट्टी है। इस दिवस पर संत पापा ने ट्वीट कर इन दो संतों के समान ईश्वर और दूसरों के सामने उदार बने रहने हेतु प्रेरित किया।

संदेश में उन्होंने लिखा, “संत पेत्रुस और पौलुस ईश्वर के सामने पारदर्शी थे। उन्होंने जीवन भर इस विनम्रता को बनाये रखा और जीवन के अंत तक इसे संरक्षित रखा। दोनों समझ गए थे कि पवित्रता ऊंचा पद हासिल करने में नहीं, बल्कि स्वयं को नम्र बनाने में है।

संत पापा ने 28 जून को तीन ट्वीट किया

पहला ट्वीट

काथलिक कलीसिया 28 जून को येसु के पवित्र हृदय के पर्व दिवस मनाती है इस अवसर पर संत पापा ने ट्वीट में लिखा,“ येसु की नजरें हमपर टिकी हुई हैं, वे हमसे प्रेम करते हैं और हमारी प्रतीक्षा करते हैं। उनका हृदय अपार प्रेम और करुणा से भरा हुआ है। आइए, हम पूरे विश्वास के साथ येसु के पास चलें, वे हमें हमेशा माफ करते हैं।

दूसरा ट्वीट

28 जून को ही वाटिकन में विश्व प्रार्थना प्रेरिताई मिशन स्थापना की 175वीं वर्षगांठ मनाई गई। इस अवसर पर संत पापा ने टवीट में लिखा, “आज हम संत पापा के विश्वव्यापी प्रार्थना नेटवर्क की 175वीं वर्षगांठ मनाते हैं। मैं आपको मेरे साथ संयुक्त होकर येसु के पवित्र हृदय से प्रार्थना करने और दुनिया में उनकी असीम दया के मिशन में शामिल होने के लिये आमंत्रित करता हूँ।

तीसरा ट्वीट

जून महीने की प्रेरिताई प्रार्थना काथलिक पुरोहितों को समर्पित है, इसके मद्देनजर संत पापा ने अपने लिए और सभी पुरोहितों के लिए प्रार्थना करने हेतु प्रेरित किया।

संत पापा ने संदेश में लिखा, “सभी पुरोहितों और मेरे प्रेरितिक कार्यों के लिए प्रार्थना करें, ताकि प्रत्येक प्रेरितिक कार्य द्वारा उस प्रेम की मुहर लगाई जा सके जो मसीह का हर व्यक्ति के लिए है।”

29 June 2019, 15:43