Cerca

Vatican News
वाटिकन में सन्त पापा फ्राँसिस से साक्षात्कार, 2014 वाटिकन में सन्त पापा फ्राँसिस से साक्षात्कार, 2014 

जाँ वेनियेर की अन्तयेष्टि पर सन्त पापा फ्राँसिस का सन्देश

सन्त पापा फ्राँसिस ने दार्शनिक एवं जनहितैषी जाँ वेनियेर के निधन पर गहन शोक व्यक्त करते हुए दिवंगत आत्मा के प्रति भाव भीनी श्रद्धान्जलि अर्पित की है।

जूलयट जेनेवीव क्रिस्टफर-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, शुक्रवार, 17 मई 2019 (रेई,वाटिकन रेडियो): सन्त पापा फ्राँसिस ने दार्शनिक एवं जन हितैषी जाँ वेनियेर के निधन पर गहन शोक व्यक्त करते हुए दिवंगत आत्मा के प्रति भाव भीनी श्रद्धान्जलि अर्पित की है।

गुरुवार को, पेरिस के परिसर में स्थित त्रोज़ली-ब्रेउल के लघु समुदाय में “आर्क”  नामक न्यास के आश्रम में जाँ वेनियेर का अन्तिम संस्कार कर दिया गया। 07 मई को उनका निधन हो गया था। रेन्स के काथलिक महाधर्माध्यक्ष तथा "आर्क" के आध्यात्मिक गुरु पियेर दोरनेल्लास ने अन्तयेष्टि समारोह का नेतृत्व किया जिसमें काथलिक धर्माधिकारियों सहित एन्गलिकन कलीसिया तथा टेज़े समुदाय के वरिष्ठ नेताओं ने भी भाग लिया। फ्रेंच, अँग्रेज़ी और जापानी भाषाओं में प्रार्थनाएँ अर्पित की गई तथा भजन गाये गये। साथ ही, इस्लामी परम्परानुसार नमाज़ अदा की गई और शांति के चिन्ह रूप में भारतीय परम्परानुसार हाथ जोड़कर परस्पर अभिवादन किया गया।

सन्त पापा फ्राँसिस का सन्देश     

जाँ वेनियेर के प्रति हार्दिक श्रद्धान्जलि अर्पित करते हुए सन्त पापा फाँसिस ने एक सन्देश प्रेषित किया जिसे अन्तयेष्टि समारोह में पढा गया। सन्त पापा ने लिखा, "हमारी सभी कमजोरियों को अपने ऊपर लेनेवाले येसु ख्रीस्त के साथ एकजुट रहने की कोशिश में, जाँ वेनियर ने यह सुनिश्चित किया कि सर्वाधिक दुर्बल और प्रायः बहिष्कृत लोगों का स्वागत-सत्कार किया जाये और उन्हें धार्मिक और सामाजिक मतभेदों के परे, भाइयों और बहनों के रूप में मान्यता दी जाये।"

उन्होंने लिखा, "प्रभु ईश्वर से मैं प्रार्थना करता हूँ कि प्रभु "आर्क" के महान और सुन्दर परिवार की  रक्षा करें। मेरी हार्दिक मंगलकामना है कि जाँ वेनियेर के सुसमाचारी सदगुणों के प्रति निष्ठावान रहते हुए उनके द्वारा स्थापित समुदाय तथा उनकी सभी शाखाएँ विकलांग एवं अन्य तरह से सक्षम लोगों के लिये  महोत्सव एवं क्षमा, दया एवं आनन्द के मनोरम स्थल सिद्ध हों। उन्हें यह एहसास हो कि वे ईश्वर के प्रेम तथा लोगों के प्रेम पात्र हैं तथा भाईचारे, न्याय और शांति से परिपूर्ण विश्व के निर्माण में भागीदार बनने के लिये आमंत्रित हैं।"

जाँ वेनियेर का मिशन

जाँ वेनियेर का जन्म 10 सितम्बर, 1928 को जिनेवा में हुआ था। वे कनाडा के एक विख्यात काथलिक दार्शनिक, ईशशास्त्री एवं मानवातावादी थे। सन् 1964 में जाँ वेनियेर ने विकासात्मक विकलांगता से पीड़ित लोगों की सेवा के लिये आर्क नामक संगठन की स्थापना की थी। आर्क एक अन्तरराष्ट्रीय संघ है जो विश्व के 37 राष्ट्रों में विकलांग लोगों की सेवा में संलग्न है। 1971 में, उन्होंने "विश्वास और प्रकाश" नामक आन्दोलन की स्थापना की थी जो इस समय 80 राष्ट्रों में विकलांगों एवं उनके परिवारों को मदद करता है। जाँ वेनियेर वाटिकन स्थित लोकधर्मी विश्वासियों की प्रेरिताई हेतु गठित परमधर्मपीठीय समिति के भी सदस्य थे। विकलांग एवं अन्य तरह से सक्षम लोगों के हित में उनके कल्याकारी कार्यों के लिये उन्हें फ्राँस, कनाडा और कई अन्य राष्ट्रों द्वारा अन्तरराष्ट्रीय पुरस्कारों से सम्मानित किया गया है। इनमें 2013 में वाटिकन के प्रतिष्ठित पुरस्कार "पाचेम इन तेर्रिस" तथा 2015 में "टेम्पलटन" पुरस्कार भी शामिल हैं।  

17 May 2019, 12:06