खोज

Vatican News
जॉन वेनियर से बात करते संत पापा फ्राँसिस जिनका निधन 7 मई को हुआ जॉन वेनियर से बात करते संत पापा फ्राँसिस जिनका निधन 7 मई को हुआ 

संत पापा द्वारा जॉन वेनियर को श्रद्धांजलि

ख्रीस्तीय दर्शनशास्त्री, लेखक, मानवतावादी एवं समाज के हाशिए पर जीवन यापन करने वाले लोगों के लिए एक उत्साही वकील जॉन वेनियर का निधन 7 मई को 90 वर्ष की आयु में हो गयी। संत पापा फ्राँसिस ने उत्तरी मकेदुनिया में अपनी यात्रा समाप्त करने के बाद वाटिकन लौटने के क्रम में उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

संत पापा ने स्कोपए से रोम के लिए उड़ान भरते हुए विमान में जॉन वेनियर की याद की तथा पत्रकारों से कहा, "मैं उनके साक्ष्य के लिए अपना आभार प्रकट करता हूँ।"

उन्होंने कहा कि वे मृत्यु के रहस्य, क्रूस, पीड़ा तथा जो दुनिया के द्वारा त्याग दिये गये हैं उन रहस्यों पर ख्रीस्तीय दृष्टिकोण प्रस्तुत करते थे।

जॉन वेनियर जिन्होंने ख्रीस्त का अनुसरण करने के लिए नौसेना की अपनी नौकरी को छोड़ दिय, वे बौद्धिक रूप से अक्षम लोगों के लिए दो अंतरराष्टीय संगठनों "लअर्के" एवं "विश्वास तथा प्रकाश" का आयोजन किया। उन्होंने हाशिये पर जीवन यापन करने वालों के लिए पाँच दशकों से भी अधिक वकालत की, जो कि उनकी शिक्षा और उनके द्वारा दिए जाने वाले उपहारों पर प्रकाश डालता है।

संत पापा ने कहा कि उन्हें सिस्टर जिनेविव के माध्यम से वेनियर की बीमारी के बारे पता था। उन्होंने कहा, "एक हफ्ता पहले मैंने उसे फोन किया, उसने मेरी बात सुनी, लेकिन वह मुश्किल से बोल पाया।" संत पापा ने कहा कि जॉन वेनियर ने न केवल निम्न लोगों के लिए कार्य किया बल्कि उन लोगों के लिए भी जो उनसे पहले जन्मे थे और मृत्यु की सजा की जोखिम उठायी।

संत पापा ने उनके महान साक्ष्य के लिए ईश्वर को धन्यवाद दिया।

08 May 2019, 17:26