खोज

Vatican News
धर्माध्यक्ष डेरिक फर्नांडिस बेलगाम धर्मप्रांत के नये धर्माध्यक्ष धर्माध्यक्ष डेरिक फर्नांडिस बेलगाम धर्मप्रांत के नये धर्माध्यक्ष  

धर्माध्यक्ष डेरिक फर्नांडिस बेलगाम धर्मप्रांत के नये धर्माध्यक्ष

संत पापा फ्राँसिस ने करवार के धर्माध्यक्ष मोनसिन्योर डेरिक फर्नांडिस को दक्षिण भारत स्थित बेलगाम धर्मप्रांत का नया धर्माध्यक्ष नियुक्त किया। संत पापा ने नियुक्ति की घोषणा 1 मई को 12.00 बजे की।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटीधर्माध्यक्ष डेरिक फर्नांडिस का जन्म 14 मई 1954 को बेलगाम के सिरसी में हुआ था। उनका पुरोहिताभिषेक 5 मई 1979 को बेलगाम धर्मप्रांत के लिए हुआ था। पुरोहिताभिषेक के उपरांत उन्होंने निम्नलिखित क्षेत्रों में अपनी सेवाएँ दीं।

वे 1979 से 1983 तक हॉली क्रोस गिरजाघर के सहायक पल्ली पुरोहित एवं पल्ली पुरोहित रहे। 1983 से 1986 तक वे मोडाज स्थित मरियम के निष्कालंक गिरजाघर के पल्ली पुरोहित तथा निर्मलनगर अनाथ आश्रम के निदेशक रहे। 1986 से 1990 तक उन्होंने रोम स्थित ऊर्बानियन विश्वाविद्यालय से कलीसियाई कानून पर डॉक्टरेट की पढ़ाई की।

1991 से 2002 तक बेलगाम धर्मप्रांत के कुलपति एवं खजाँची के रूप में अपनी सेवा दी। इस दौरान वे पुरोहित के सिनॉड के सदस्य तथा परमधर्मपीठीय मिशन एड सोसाईटी के सचिव भी रहे। 2004 से 2006 तक उन्होंने बेलगाम धर्मप्रांत में प्रशासनिक कार्यभार संभाला। बेलगाम धर्मप्रांत की स्थापना 19 सितम्बर 1963 को हुई थी।

भारतीय काथलिक धर्माध्यक्षीय सम्मेलन के महासचिव धर्माध्यक्ष थेओदोर मसकरेनहास एस.एफ.एक्स ने एक प्रेस विज्ञप्ति जारी कर, नवनियुक्त धर्माध्यक्ष डेरिक फर्नांडिस को शुभकामनाएँ दीं तथा उन्हें अपनी प्रार्थनाओं का आश्वासन दिया।

01 May 2019, 16:43