खोज

Vatican News
स्कोपिए स्थित मदर तेरेसा मेमोरियल में संत पापा श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए स्कोपिए स्थित मदर तेरेसा मेमोरियल में संत पापा श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए  (ANSA)

ईश्वर के प्रेम की साक्षी, संत मदर तेरेसा

संत पापा फ्राँसिस ने उत्तरी मकेदुनिया की प्रेरितिक यात्रा के दौरान 7 मई को, संत मदर तेरेसा के जन्म स्थान स्कोपए स्थित मदर तेरेसा मेमोरियल में विभिन्न धर्मों के धर्माधिकारियों के साथ, गरीबों से मुलाकात की।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

स्कोपए, मंगलवार, 7 मई 2019 (रेई)˸ जब मदर तेरेसा का जन्म हुआ था स्कोपए शहर ओटोमन साम्राज्य के कोसोवो विलायत का हिस्सा था। आज यह उत्तरी मकेदुनिया की राजधानी है। सन् 1963 में भूकम्प ने सेक्रेड हार्ट गिरजाघर को ध्वस्त कर दिया जहाँ उनका बपतिस्मा हुआ था किन्तु 2009 में इसी जगह पर मदर तेरेसा मेमोरियल की स्थापना की गयी है।

संत पापा की प्रार्थना

संत मदर तेरेसा मेमोरियल में मिशनरीस ऑफ चैरिटी की सिस्टर सुपीरियर ने अपनी तीन धर्मबहनों व एक बालक के साथ संत पापा का स्वागत किया। संत पापा ने संत मदर तेरेसा की प्रतिमा को श्रद्धांजलि अर्पित की और वे प्रार्थनालय की ओर बढ़े, जहाँ विभिन्न धर्मों के धर्माधिकारी एवं मदर तेरेसा के दो रिश्तेदार भी उपस्थित थे।

वेदी पर स्थापित मदर तेरेसा के पवित्र अवशेष के पास प्रार्थना करने के उपरांत संत पापा ने संत मदर तेरेसा के सम्मान में प्रार्थना अर्पित करते हुए कहा, "हे ईश्वर, दया और अच्छाई के पिता, हमें जीवन देने तथा संत मदर तेरेसा का कारिज्म प्रदान करने के लिए धन्यवाद। अपनी आपार दया से आपने उसे भारत एवं समस्त विश्व में अत्यन्त गरीब लोगों के बीच आपके प्रेम का साक्ष्य देने के लिए बुलाया। उन्होंने जरूरतमंद लोगों के लिए बहुत कुछ किया क्योंकि उन्होंने सभी स्त्री पुरूषों में आपके पुत्र के चेहरे को देखा। आपकी आत्मा के प्रति उदार रहकर, वे गरीबों तथा न्याय के भूखे एवं प्यासे लोगों के लिए प्रार्थनामय आवाज बनीं। येसु द्वारा क्रूस पर से कहे गये शब्दों "मैं प्यासा हूँ" पर ध्यान देकर, उन्होंने करूणामय प्रेम के कार्यों द्वारा क्रूसित येसु की प्यास बुझाने की कोशिश की।

संत मदर तेरेसा की मध्यस्थता द्वारा प्रार्थना

गरीबों की माता हे संत मदर तेरेसा, हम आपकी मध्यस्थता द्वारा प्रार्थना करते हैं कि इस शहर में जहाँ आप जन्मी और जहाँ आपका घर था। आपने यहीं बपतिस्मा संस्कार ग्रहण किया था एवं अपने परिवार तथा विश्वासी समुदाय से विश्वास की बातें सुनी था। यहीं आप गरीब, जरूरतमंद और असहाय लोगों को देखना एवं उनसे मिलना आरम्भ किया।  

आपने अपने माता-पिता से जरूरत में पड़े लोगों को प्यार करना एवं उनकी मदद करना सीखा। यहीं आपने गिरजाघर के एकान्त में एक मिशनरी, एक समर्पित व्यक्ति के रूप में येसु का अनुसरण करने के बुलावे को सुना।  

यहाँ इस स्थान पर हम आपसे अर्जी करते हैं कि आप येसु से हमारे लिए प्रार्थना करें ताकि हम भी गरीबों, अधिकारों से वंचित, परित्यक्त, बीमार और निम्न कहे जाने वाले भाई बहनों की पुकार पर ध्यान दे सकें।  हमें कृपा दे कि हम उन्हें उनकी नजरों से देख सकें जो जरूरत में हमारे पास आते हैं। वे हमें ऐसा हृदय प्रदान करें कि जिसके द्वारा हम ईश्वर को प्यार कर सकें जो हर व्यक्ति में उपस्थित हैं। ऐसा हृदय दे जिसमें हम पीड़ा और अन्याय के दर्द को महसूस कर सकें।

हमें कृपा दे कि हम हमारे समय में प्रेम एवं आशा के चिन्ह बन सकें, जब कई लोग गरीब, परित्यक्त और हाशिये पर हैं एवं विस्थापित जीवन व्यतीत कर रहे हैं, हमें शक्ति दे कि हमारे प्रेम होंठों तक ही सीमित न रहें बल्कि ठोस एवं सच्चे हो सकें ताकि हम कलीसिया का विश्वसनीय साक्ष्य प्रस्तुत कर सकें, जिसका कर्तव्य है गरीबों को सुसमाचार सुनाना, बंदियों को छुटकारे का, दुःखियों को आनन्द का एवं सभी लोगों को मुक्ति का संदेश देना।

हे संत मदर तेरेसा अपने शहर, अपने लोगों, अपनी कलीसिया के लिए प्रार्थना कर एवं उन सभी के लिए भी जो ख्रीस्त का अनुसरण करना चाहते हैं। ताकि वे येसु के सच्चे शिष्यों की तरह न्याय, प्रेम, दया, शांति एवं सेवा के कार्यों को आगे ले सकें और उनका अनुसरण कर सकें जो सेवा कराने नहीं बल्कि सेवा करने एवं बहुतों के लिए अपना जीवन अर्पित करने आये। ख्रीस्त हमारे प्रभु के द्वारा आमेन।  

गरीबों से मुलाकात

प्रार्थना के उपरांत संत पापा ने उपस्थित विभिन्न धर्मों के धर्मगुरूओं एवं मदर तेरेसा के रिश्तेदारों का अभिवादन किया तथा करीब 100 गरीबों से मुलाकात की जिनकी देखभाल मदर तेरेसा की धर्मबहनें करती हैं। उन्होंने वहाँ मदर तेरेसा तीर्थ स्थल के नींव के पत्थर को आशीष दी और अंत में, सभी को अपना आशीर्वाद दिया।  

07 May 2019, 15:10