खोज

Vatican News
संत पापा फ्राँसिस संत पापा फ्राँसिस  (AFP or licensors)

यूएई की यात्रा से पहले संत पापा फ्राँसिस की शुभकामनाएँ

वीडियो संदेश में, संत पापा फ्राँसिस ने संयुक्त अरब अमीरात के लोगों को बधाई दी और कहा कि वे पारस्परिक संबंधों के इतिहास में एक नया कदम चिह्नित करने के लिए तत्पर हैं।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, गुरुवार 31 जनवरी 2019 (वाटिकन न्यूज) :  संत पापा फ्राँसिस एक अंतरधार्मिक बैठक में भाग लेने और पवित्र यूखरीस्तीय समारोह का अनुष्ठान करने के लिए 3 से 5 फरवरी तक अबू धाबी की यात्रा कर रहे हैं।

अपने वीडियो संदेश में, संत पापा ने कहा कि वे संयुक्त अरब अमीरात का दौरा करने के लिए उत्सुक हैं।  यह भूमि सह-अस्तित्व, मानव भाईचारा और विभिन्न सभ्यताओं और संस्कृतियों के बीच मुलाकात" का एक आदर्श है।

संत पापा ने कहा, “संयुक्त अरब अमीरात में  कई लोग "विविधता का सम्मान करते हुए, काम करने और आज़ादी से जीने के लिए एक सुरक्षित स्थान पाते हैं।"

निमंत्रण के लिए आभार

संत पापा फ्राँसिस ने "मानप भाईचारा" पर एक अंतरधार्मिक बैठक में भाग लेने के लिए आमंत्रित करने के लिए अबू धाबी के क्राउन प्रिंस, शेख मोहम्मद बिन जायद बिन सुल्तान अल नाह्यान को धन्यवाद दिया।

इसके बाद उन्होंने यूएई के अन्य अधिकारियों के प्रति उनके "उदार आतिथ्य और भ्रातृत्वपूर्ण स्वागत" के लिए आभार व्यक्त किया।

उसने कहा, "मैं अपने दोस्त और प्यारे भाई को अल-अजहर, डॉ. अहमद अल-तैयब, और उन सभी लोगों को धन्यवाद देता हूँ, जिन्होंने बैठक की तैयारी में सहायता की। उन्होंने  कहा कि ईश्वर में विश्वास हमें जोड़ता है तोड़ता नहीं।”

विश्वास लोगों को करीब लाता है

संत पापा फ्राँसिस ने कहा कि ईश्वर में विश्वास लोगों को उनके मतभेदों के बावजूद करीब लाता है, तथा "दुश्मनी और घृणा से हमें दूर करता है।"

संत पापा ने कहा कि वे "धर्मों के बीच संबंधों के इतिहास में एक नया पृष्ठ" लिखने के लिए तत्पर हैं, यह पुष्टि करते हुए कि हम भले ही हम अलग हैं, पर भाई-बहन हैं।

अंत में, संत पापा फ्रांसिस ने संयुक्त अरब अमीरात को "समृद्धि और शांति की भूमि, सूर्य और सद्भाव की भूमि, सह-अस्तित्व और मुलाकात की भूमि" कहा और उसने संयुक्त अरब अमीरात के लोगों को अपने लिए प्रार्थना करने हेतु आमंत्रित किया।

31 January 2019, 16:01