खोज

Vatican News
इटली के नागरिक सुरक्षा के राष्ट्रीय सेवा दल के सदस्यों से मुलाकात करते संत पापा इटली के नागरिक सुरक्षा के राष्ट्रीय सेवा दल के सदस्यों से मुलाकात करते संत पापा 

नागरिक सुरक्षा राष्ट्रीय सेवा के सदस्यों को संत पापा का संदेश

संत पापा फ्राँसिस ने शनिवार 22 दिसम्बर को वाटिकन के पौल षष्ठम सभागार में इटली के नागरिक सुरक्षा के राष्ट्रीय सेवा दल के 7,000 सदस्यों से मुलाकात कर, उन्हें ख्रीस्त जयन्ती की शुभकामनाएँ अर्पित की तथा देश की सेवा में हुए शहीदों की याद की।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, शनिवार, 22 दिसम्बर 2018 (रेई)˸ संत पापा ने कहा, "इस सुन्दर अवसर पर, जब हम पावन ख्रीस्त जयन्ती के अति करीब होने के कारण आनन्दित हैं, हमारी सोच और हमारी प्रार्थना में उन लोगों को नहीं भूल सकते, जो इस वर्ष विनाशकारी घटनाओं के शिकार हुए हैं। हम विशेष रूप से उन राहत कर्मियों की याद करते हैं जो हाल में दूसरों की जान बचाते हुए खुद मौत के शिकार हो गये।"

समर्पण एवं उदारता

संत पापा ने राहत कार्यों में प्रतिबद्ध स्वयंसेवकों के समर्पण की सराहना की जो उदारता पूर्वक अपनी क्षमताओं के अनुसार समुदाय की सेवा में आगे आते तथा लोगों की सुरक्षा हेतु उनकी मदद करते हैं।

संत पापा ने कहा, "आज विज्ञान एवं तकनीकि हमें प्रकृति के मिजाज को समझने में मदद दे सकते हैं किन्तु ये साधन हमेशा उन निवारक व्यवधानों को प्रदान करने में असमर्थ होते हैं जिनसे लोगों एवं चीजों की क्षति को रोका जा सके।"

इस प्रकार, इतालवी नागरिक सुरक्षा हमें यह याद दिलाना नहीं छोड़ती है कि मानव जीवन की रक्षा और क्षेत्र एवं बुनियादी ढांचे की सुरक्षा न केवल आपात स्थिति में हो रही है, बल्कि पूर्वानुमान और रोकथाम गतिविधियों तथा उन्हें सामान्यता स्थिति में लाने के लिए भी वह प्रतिबद्ध है जिसमें कभी-कभी लंबा और जटिल कार्य करना पड़ता है।

संत पापा ने दल के सदस्यों को स्मरण दिलाया कि उनका कार्य प्रकृतिक संसाधनों की देखभाल एवं प्रदूषण से उसकी रक्षा करना भी है। उन्होंने कहा, "पारिस्थितिक संस्कृति को पर्यावरण की गिरावट एवं प्रदूषण से उठने वाले कुछ सवालों के उत्तर तक सीमित नहीं होना चाहिए, बल्कि इसके लिए हमें एक अलग दृष्टिकोण, विचार, राजनीति, शैक्षणिक कार्यक्रम, जीवनशैली एवं आध्यात्मिकता की आवश्यकता है, क्योंकि पर्यावरण की हर समस्या के लिए सिर्फ तकनीति हल खोजने का प्रयास करने का अर्थ है, उन चीजों को दूर करना जो वास्तविकता से जुड़े हैं तथा जो विश्व व्यवस्था की बड़ी एवं गंभीर समस्याओं को छिपाते हैं।  

शिक्षा का महत्व

संत पापा ने उनके मिशन की याद दिलाते हुए कहा कि यही कारण है कि नागरिक सुरक्षा के मिशन में शिक्षा का स्थान महत्वपूर्ण है ताकि शांति के समय में हर नागरिक दैनिक जीवन के स्थलों को जानने के लिए प्रशिक्षित किया जा सके एवं वह एक ऐसा व्यवहार अपनाये जिसके द्वारा खुद को एवं दूसरों को भी जोखिम से बचा सके। इसके लिए संत पापा ने स्कूलों में युवाओं को प्रकृति से प्रेम करने एवं उसकी रक्षा करने तथा मानव मूल्यों का प्रचार करने का आह्वान किया ताकि दैनिक जीवन में हर व्यक्ति अधिक सुरक्षित विश्व के निर्माण में योगदान दे सके।

संत पापा ने नागरिक सुरक्षा के राष्ट्रीय सेवा दल के सदस्यों को इस बात पर जोर दिया कि वे केवल समस्याओं पर अधिक ध्यान न दें बल्कि सबसे बढ़कर लोगों पर ध्यान दें और अपनी जिम्मेदारी को सम्पूर्ण समुदाय के लिए एक गुणवत्तापूर्ण सेवा के रूप में प्रस्तुत करें।

संत पापा ने उन्हें आनन्द एवं शांति से पूर्ण ख्रीस्त जयन्ती की शुभकामनाएँ दीं।

22 December 2018, 13:54