खोज

Vatican News
संत पापा फ्राँसिस संत पापा फ्राँसिस  (ANSA)

ईश्वर के लिए सब कुछ संभव, मडागास्कर के युवाओं से संत पापा

संत पापा फ्राँसिस ने मडागास्कर के युवाओं को उनके राष्ट्रीय युवा दिवस के अवसर पर एक विडियो संदेश प्रेषित किया तथा निमंत्रण दिया कि वे ईश्वर पर विश्वास करें एवं सभी ओर शांति और आशा बिखेरें।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

संत पापा ने संदेश में कहा, "जाओ और प्रत्येक के लिए यह घोषित करो कि येसु आपको प्यार करते हैं और उनके साथ हर प्रकार का भय दूर हो जाता है।"

मडागास्कर में राष्ट्रीय युवा दिवस की विषयवस्तु थी "मरियम डरिये नहीं, आपको ईश्वर की कृपा प्राप्त है।"  

युवाओं को संत पापा की सलाह

संत पापा ने फ्रेंच भाषा में युवाओं को सम्बोधित किया जिसे राष्ट्रीय युवा दिवस के समापन हेतु ख्रीस्तयाग समारोह के दौरा सुनाया गया।

संत पापा ने कहा, "प्रिय युवाओ, मैं आपलोगों को लाईव सम्बोधित करते हुए खुश हूँ। आप मेरे और सिनॉड के धर्माध्यक्षों के हृदय में हैं क्योंकि हमारा ध्यान आपकी ओर है। आप अपने सुन्दर देश के हर कोने-कोने से सम्मेलन में भाग लेने आये हैं जिसकी विषयवस्तु है "मरियम डरिये नहीं, आपको ईश्वर की कृपा प्राप्त है।"

उन्होंने कहा कि मरियम को कहे गये स्वर्गदूत के शब्द आप सभी के लिए है। ईश्वर इसके द्वारा आप को सम्बोधित कर रहे हैं। जैसा कि उन्होंने मरियम को देखा तथा उन्हें अपनी कृपा प्रदान की। वे आपको को भी प्यार, सम्मान तथा कोमलता से देखते हैं। वे आपके भय और कमजोरियों को जानते हैं। उनके लिए सबकुछ संभव है।  

उदारता पूर्वक येसु को उत्तर दें

संत पापा ने संदेश में कहा कि मरियम ने अपना सब कुछ उनके हाथों में डाल दिया था। उन्होंने कहा कि आप भी उन्हीं की तरह करें अपनी पूरी क्षमता से अपना हृदय खोलकर ईश्वर की कृपा को स्वीकार करें।

ईश्वर की कृपा एक खजाना है जिसे आसानी से भुलाया जा सकता है क्योंकि ईश्वर अपने को कभी थोपते नहीं। संत पापा ने कहा कि वे उनके निमंत्रण को सुनने के लिए समय निकालें तथा अपने पूरे हृदय एवं उदारता से उनका प्रत्युत्तर दें। येसु का प्रत्युत्तर देने में कितना आनन्द है, उसका साक्ष्य पुरोहित एवं धर्मसंघी दे सकते हैं। येसु हमारे सम्पूर्ण जीवन को सार्थक बना देते हैं।

दूसरों के साथ चलना

संत पापा ने कहा, "अकेले न रहें। कलीसिया एक बड़ा परिवार है जहाँ आप अपनी पल्लियों और अपने दलों में प्रार्थना, संस्कारों, मित्रों, पुरोहितों एवं अन्य विश्वासयों के सहयोग से हमेशा समर्थन और सहचर्य महसूस कर सकते हैं।"

आशा एवं शांति के संदेशवाहक बनें

संत पापा ने कहा, "जाओ और सभी के लिए घोषित करो कि येसु हमें प्यार करते हैं। उनके साथ हर प्रकार का भय दूर हो जाता है। अपने स्वप्नों को साकार करें। अपने तथा देश के भविष्य निर्माण हेतु एक साथ कार्य करें। हमेशा दूसरों की भलाई की खोज करें। मैं आपको अपने शहरों एवं गाँवों में जहाँ आप रहते और कार्य करते हैं शांति और आशा का संदेश देने भेजता हूँ।"

ईश्वर आपको एवं आपके परिवार को आशीष प्रदान करे। मैं आपके लिए प्रार्थना करता हूँ तथा आपसे भी मेरे एवं धर्माध्यक्षों के लिए प्रार्थना की मांग करता हूँ।  

16 October 2018, 17:01