बेटा संस्करण

Cerca

Vatican News
संत जॉन मेरी वियन्नी संत जॉन मेरी वियन्नी  (Joachim Schäfer - Ökumenisches Heiligenlexikon)

पल्ली पुरोहितों की याद में संत पापा का संदेश

संत पापा फ्राँसिस ने आर्स के संत जॉन मेरी वियन्ने के पर्व दिवस के अवसर पर, ट्वीट संदेश में पल्ली पुरोहितों के लिए सहयोग की याचना की।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, शनिवार, 4 अगस्त 2018 (रेई)˸ 4 अगस्त को कलीसिया आर्स के संत जॉन मेरी वियन्ने का पर्व मनाती है जो पल्ली पुरोहितों के संरक्षक माने जाते हैं।

संत पापा फ्राँसिस ने सभी पल्ली पुरोहितों की याद करते हुए एक ट्वीट प्रेषित कर विश्वासियों का आह्वान किया कि वे अपने पुरोहितों को सहयोग दें।

उन्होंने संदेश में लिखा, "मित्रता एवं स्नेह के साथ अपने पुरोहितों को सहयोग दें।"

संत पापा ने जुलाई माह में प्रार्थना की प्रेरिताई में, पुरोहितों के लिए प्रार्थना करने का आह्वान किया था।

संत जॉन मेरी वियन्ने का जीवन

संत जॉन मेरी वियन्ने का जन्म 8 मई 1886 को फ्राँस में हुआ था। वे फ्राँस के आर्स पल्ली में पुरोहितीय मिशन के लिए विशेष रूप से याद किये जाते हैं। उनके एक प्रबोधन से श्रोतागण बहुत प्रभावित थे क्योंकि वे उसे अपने उपदेशों तथा धर्मशिक्षा में बार बार दुहराते थे। उनकी संत घोषणा प्रक्रिया में अनेक साक्षियों ने इसे अक्षरशः उदृत किया और वह है, ईश्वर के द्वारा प्यार किया जाना, ईश्वर से संयुक्त होना, ईश्वर की उपस्थिति में, पूर्णतः ईश्वर के साथ, केवल ईश्वर को प्रसन्न करने के लिए जीना कितना मनोहर है। इसी यथार्थता में उनके जीवन का रहस्य छिपा है। 

04 August 2018, 12:30