बेटा संस्करण

Cerca

Vatican News
नोक की माता मरियम को श्रद्धांजलि अर्पित करते संत पापा नोक की माता मरियम को श्रद्धांजलि अर्पित करते संत पापा  (ANSA)

नोक तीर्थस्थल शांति एवं विश्वास नवीनीकरण का स्थान

आयरलैंड की प्रेरितिक यात्रा में संत पापा फ्राँसिस ने रविवार 26 अगस्त को, नोक स्थित मरियम तीर्थ पर देवदूत प्रार्थना के पूर्व उपस्थित विश्वासियों को सम्बोधित किया।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

संत पापा ने कहा, "प्रिय भाइयो एवं बहनो, मैं इस अवसर के लिए ईश्वर को धन्यवाद देता हूँ, जो मुझे परिवारों के विश्व सम्मेलन की पृष्ठभूमि पर, आयरिश लोगों के इस प्रिय तीर्थस्थल का दर्शन करने का अवसर मिला।"

रोजरी प्रार्थना का कितना महत्व

उन्होंने कहा, "अपारिशन (दिव्यदर्शन) प्रार्थनालय में मैंने विश्व के सभी परिवारों को हमारी प्यारी माता मरियम के स्नेही मध्यस्थता तले समर्पित कर दिया। हमारी माता मरियम हर परिवार के सुख और दु˸ख को समझती हैं और उन्हें अपने निष्कलंक हृदय में रखकर अपने पुत्र के सिंहासन के सामने लाती है। मेरी यात्रा की यादगारी में मैंने उन्हें सोने की रोजरी चढ़ायी। मैं जानता हूँ कि इस देश के परिवारों में रोजरी प्रार्थना की परम्परा का कितना महत्व है। कौन बतला सकता है कि कितने माताओं, पिताओं एवं बच्चों के हृदयों ने माता मरियम की ख्रीस्त के जीवन के आनन्द, प्रकाश, दु˸ख और महिमा के भेदों में सहभागिता पर चिंतन कर, बल तथा सांत्वना का एहसास किया है।"

मरियम हमारी माता, कलीसिया की भी माता हैं और उन्हीं को आज हम आयरलैंड में ईश्वर की विश्वासी प्रजा की यात्रा को चढ़ाते हैं। हम प्रार्थना करते हैं कि हमारा परिवार ख्रीस्त के राज्य को आगे बढ़ाने और हमारे भाइयों और बहनों की देखभाल करने के अपने प्रयासों में बना रहे, आँधी और तूफान के बीच जो हमारे समय को झकझोरते हैं देश की उत्तम परम्पराओं को बनाये रखते हुए, ईश्वर के अनुरूप हमारी मानव प्रतिष्ठा एवं अनन्त जीवन के हमारे लक्ष्य को नष्ट करने वाली बाधाओं से, वह विश्वास एवं अच्छाई का रक्षक बन सके।

दुराचार के शिकार लोगों के लिए प्रार्थना

संत पापा ने सभी पीड़ितों के लिए माता मरियम से प्रार्थना करते हुए कहा, "हमारी माता मरियम अपने पुत्र के परिवार के सभी पीड़ित सदस्यों पर भी दया दृष्टि करे।" उन्होंने कहा, माता मरियम के सामने मैंने, खासकर, दुराचार के शिकार लोगों के लिए प्रार्थना की जिन्हें आयरलैंड की कलीसिया के सदस्यों द्वारा किसी भी तरह से कष्ट झेलना पड़ा है। हम में से कोई भी दुराचार का सामना करने वाले युवा लोगों की कहानियों से प्रेरित हुए बिना नहीं रह सकते, जिनकी निर्दोषता से उन्हें लूट लिया गया और उनके लिए दर्द भरी यादों को छोड़ दिया गया। यह खुला घाव हमें सच्चाई और न्याय की खोज में दृढ़ और निर्णायक बनने के लिए चुनौती देता है। संत पापा ने दुराचार के पापों, ठोकरों एवं धोखाधड़ियों के लिए ईश्वर से क्षमा मांगी तथा धन्य कुँवारी मरियम की मध्यस्थता द्वारा प्रार्थना की कि उनके घावों को चंगाई मिले तथा ख्रीस्तीय परिवार के सभी सदस्य यह दृढ़ संकल्प ले कि यह परिस्थिति फिर कभी न आये।

उत्तरी आयरलैंड के लोगों की याद

संत पापा ने अपने संदेश के दौरान उत्तरी आयरलैंड के लोगों का भी अभिवादन किया। उन्होंने कहा, यद्यपि परिवारों के लिए विश्व सम्मेलन में भाग लेने हेतु मेरी यात्रा में उत्तर की यात्रा करना शामिल नहीं है, मैं उन्हें प्रार्थना में अपने स्नेह एवं आध्यात्मिक सामीप्य का आश्वासन देता हूँ। माता मरियम से प्रार्थना करना हूँ कि वे आयरलैंड के सभी परिवारों को मेल-मिलाप के कार्य में भाई-बहन की तरह दृढ़ बने रहने में मदद करें।

संत पापा ने विभिन्न ख्रीस्तीय समुदायों के बीच मित्रता एवं आपसी सहयोग में बृद्धि के लिए अपनी कृतज्ञता व्यक्त करते हुए प्रार्थना की कि ख्रीस्त के सभी शिष्य शांति प्रक्रिया, सौहार्द तथा आज हर बच्चे के लिए एक न्यायपूर्ण समाज के निर्माण में बढ़ने के प्रयास को समर्थन देते रहें।

इतना कहने के बाद संत पापा ने सभी निवेदनों को माता मरियम के को अर्पित करते हुए देवदूत प्रार्थना का पाठ किया।

Photogallery

आयरलैंड में नोक तीर्थस्थल
26 August 2018, 16:32