Cerca

Vatican News
दक्षिण अफ्रीका के पूर्व राष्ट्रपति नेल्सन मंडेला दक्षिण अफ्रीका के पूर्व राष्ट्रपति नेल्सन मंडेला   (ANSA)

प्यार की सभ्यता बनाने हेतु आमंत्रित

प्रति वर्ष 18 जुलाई को संयुक्त राष्ट्र द्वारा ‘नेल्सन मंडेला अन्तर्राष्ट्रीय दिवस’ शान्ति के लिये नोबल पुरस्कार विजेता दक्षिण अफ्रीका के पूर्व राष्ट्रपति नेल्सन मंडेला "मदिबा", के जन्म दिवस को यादगारी के रूप में मनाया जाता है।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

विश्व में शांति और प्यार की संस्कृति लाने हेतु अपना जीवन समर्पित करने वाले नेल्सन मंडेला के 100वें जन्म दिवस के अवसर पर संत पापा ने ट्वीट प्रेषित कर हमें अपने दैनिक जीवन में प्यार की संस्कृति को आगे बढ़ाने के लिए प्रेरित किया।

संदेश में उन्होंने लिखा,“येसु हमें उन स्थितियों में प्यार की सभ्यता बनाने के लिए आमंत्रित करते हैं जिसे हम हर दिन जीने के लिए बुलाये गये हैं।”

विदित हो कि जब मंडेला 92 वर्ष के हुए तब इसका निर्णय 18 जुलाई 2010 को, प्रति वर्ष मनाने के लिये लिया गया था। संयुक्त राष्ट्र महासभा के पूर्वाध्यक्ष अली ट्रेकी ने बताया कि यह निर्णय एक ऐसे महान व्यक्ति को सम्मानित करने के लिये लिया गया जिसने आम लोगों की भलाई के लिये न सिर्फ़ काम किया अपितु उसकी कीमत भी चुकायी। मंडेला ने अपने जीवन की सबसे ज्यादा उम्र (27 साल) क़ैद में बिताये। क़ैद के दौरान वे अधिकांश समय केप टाउन के किनारे बसे कुख्यात रॉबेन द्वीप बन्दीगृह में रहे। उनके 91वें जन्म दिवस पर संयुक्त राष्ट्र महासचिव बान की मून ने कहा था- "मंडेला संयुक्त राष्ट्र में उच्च आदर्शों के प्रतीक हैं। मंडेला को यह सम्मान शान्ति स्थापना, रंगभेद उन्मूलन, मानवाधिकारों की रक्षा और लैंगिक समानता की स्थापना हेतु किये गये सतत प्रयासों के लिये दिया जा रहा है।"

5 दिसंबर 2013 को राष्ट्र के पिता "मदिबा" का 95 वर्ष की उम्र में निधन हो गया। उनके पार्थीव शरीर को अपने प्यारे ट्रांसकेई क्षेत्र में कुनु गांव में आराम करने के लिए रखा गया था।

18 July 2018, 17:29