खोज

पाकिस्तान के सिंध प्रान्त में ज़रूरतमन्दों की मदद, प्रतीकात्मक तस्वीरः 12.10.2022 पाकिस्तान के सिंध प्रान्त में ज़रूरतमन्दों की मदद, प्रतीकात्मक तस्वीरः 12.10.2022   (AFP or licensors)

पाकिस्तान में काथलिक अस्पताल की मोबाइल इकाई ग़रीबों की मददगार

पाकिस्तान के हैदराबाद में काथलिक अस्पताल की मोबाइल इकाई सिंध के पाकिस्तानी प्रांत में गरीबों की सहायता कर रही है। सिंध प्रान्त के हैदराबाद स्थित सन्त एलीज़ाबेथ अस्पताल की मोबाईल इकाई अच्छी मस्जिद गाँव में निर्धन लोगों को स्वास्थ्य सेवा प्रदान करने का नेक काम कर रही है।

जूलयट जेनेवीव क्रिस्टफर-वाटिकन सिटी

पाकिस्तान, सिंध, शुक्रवार, 30 दिसम्बर 2022 (रेई, वाटिकन रेडियो): पाकिस्तान के हैदराबाद में काथलिक अस्पताल की मोबाइल इकाई सिंध के पाकिस्तानी प्रांत में गरीबों की सहायता कर रही है। सिंध प्रान्त के हैदराबाद स्थित सन्त एलीज़ाबेथ अस्पताल की मोबाईल इकाई अच्छी मस्जिद गाँव में निर्धन लोगों को स्वास्थ्य सेवा प्रदान करने का नेक काम कर रही है।  

निःशुल्क उपचार

अस्पताल द्वारा स्थापित मोबाइल क्लिनिक सिंध प्रान्त के विभिन्न गांवों में यात्रा कर सबसे गरीब आबादी की निगरानी कर उन्हें चिकित्सा और उपचार प्रदान कर रही है। डॉक्टर और नर्से देश के सबसे दुर्गम स्थानों में भी सहायता पहुंचाने के लिए मोटरसाइकिल से पहुंचते हैं। हाल के दिनों में, अच्छी मस्जिद के गाँव के लगभग 400 ईसाई, मुस्लिम और हिंदू सभी का चिकित्सा परीक्षण किया गया तथा आवश्यक उपचार एवं दवाएँ प्रदान की गई।

सन्त एलीज़ाबेथ अस्पताल के निर्देशक कोलोम्बन धर्मसमाज के पुरोहित फादर रॉबर्ट मैक कुलोख ने बताया कि कोई भी नागरिक उनके क्लिनिक पर आकर चिकित्सीय जाँच करा सकता है तथा विभिन्न रोगों के लिये आवश्यक इलाज एवं दवाएँ प्राप्त कर सकता है। उन्होंने कहा, "यह स्वास्थ्य के क्षेत्र में हमारा प्रेरितिक मिशन है: भले समारी  की करुणा की भावना में, बीमारों का पूरी तरह से नि: शुल्क इलाज करना"।

कलीसिया की सेवा

हालांकि पाकिस्तान में स्वास्थ्य देखभाल कानून प्रभावी है जिसे पर्यवेक्षकों द्वारा अच्छा माना जाता है, तथापि, राजकीय एजेंसियां ​​देखभाल कानून लक्ष्यों तक पहुंच को पूरा करने के लिए संघर्ष करती हैं, विशेष रूप से, वित्तीय संसाधनों की कमी के कारण। इस प्रकार, देश के कई क्षेत्रों में, न्यूनतम सार्वजनिक स्वास्थ्य देखभाल उद्देश्यों की उपलब्धि ग़ैर सरकारी निजी संस्थाओं तथा ख्रीस्तीय सम्प्रदायों एवं कलीसिया द्वारा निर्मित और संचालित  संरचनाओं द्वारा की जाती है।

सन्त एलीज़ाबेथ अस्पताल मातृ, नवजात और शिशु देखभाल और सहायता में विशिष्ट है तथा उच्च मृत्यु दर का प्रत्युत्तर देने में प्रयासरत है। इसके अतिरिक्त, मोबाइल क्लिनिक आदिवासी या अर्ध-खानाबदोश तथा ग़रीब किसानों को नियमित रूप से निःशुल्क मलेरिया, टाइफाइड, गैस्ट्रोएंटेराइटिस, श्वसन पथ के संक्रमण, एनीमिया, पीलिया, वायरल संक्रमण, निर्जलीकरण, त्वचा रोग, तपेदिक जैसी व्यापक स्वास्थ्य समस्याओं को दूर करने के लिये सहायता और उपचार प्रदान करता है।

Thank you for reading our article. You can keep up-to-date by subscribing to our daily newsletter. Just click here

30 December 2022, 11:14