खोज

रूस में एक तेल फैक्ट्री रूस में एक तेल फैक्ट्री   (ALEXANDER MANZYUK)

ऊर्जा संकट के बीच यूरोपीय संघ के धर्माध्यक्षों का आह्वान

यूरोपीय संघ के काथलिक धर्माध्यक्षीय सम्मेलन के आयोग ने यूरोपीय संघ का आह्वान किया है कि वह इस शीलकाल में सभी के लिए सस्ती कीमत पर ऊर्जा उपलब्ध कराये।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

यूक्रेन पर रूस के युद्ध से उत्पन्न ऊर्जा आपातकाल ने बढ़ती मुद्रास्फीति और बढ़ती ऊर्जा की कीमतों की गति बढ़ा दी है, यूरोपीय संघ के धर्माध्यक्ष एकजुटता और सबसे कमजोर लोगों के लिए समर्थन की अपील कर रहे हैं।

यूरोप में जब शीतकाल का आगमन हो रहा है, यूरोपीय संघ के धर्माध्यक्षीय सम्मेलन के आयोग (सीओएमएसीए) ने सार्वजनिक जीवन के लिए जिम्मेदार सभी लोगों से अपील की है कि वे उन परिवारों एवं व्यक्तियों को न छोड़ें जो कमजोर हैं या सामाजिक आर्थिक भेदभाव के शिकार हैं तथा बिजली एवं हीटिंग की कीमत नहीं चुका सकते।

उन्होंने कहा है, "सस्ती कीमत पर सभी लोगों के लिए ऊर्जा उपलब्ध की जाए, विशेषकर, सबसे दुर्बल लोगों को ध्यान में रखते हुए, साथ ही एक न्यायसंगत और स्थायी ऊर्जा संक्रमण के दीर्घकालिक उद्देश्यों को ख्याल में रखते हुए।”

धर्माध्यक्षों ने उल्लेख किया है कि यूक्रेन के खिलाफ रूसी सैन्य आक्रमण की पृष्टभूमि पर, तेल और गैस आपूर्ति के लिए यूरोपीय संघ की अतिनिर्भरता ने रूस को ऊर्जा आपूर्ति को एक हथियार के रूप में प्रयोग करने का बल दिया है।

यह स्थिति यूरोप में न केवल ऊर्जा असुरक्षा को बढाया है बल्कि बढ़ती कीमतों के परिणामस्वरूप यूरोपीय संघ के पूरे समाज पर नकारात्मक प्रभाव डाला है।

"जब कुछ कम्पनियाँ दिवालिया हो रहे हैं वे अपने कर्मचारियों को काम से निकाल रहे हैं और अनेक लोगों के लिए बढ़ती कीमतों के साथ जीना मुश्किल हो रहा है।"  

इस तरह यूरोपीय धर्माध्यक्षों ने संगठित एकात्मता का आह्वान करते हुए समाज के हरेक सदस्य को निमंत्रण दिया है कि वे एक-दूसरे की चिंता करें तथा ऊर्जा का जिम्मेदारीपूर्वक उपभोग करें।  

इस संबंध में, यह यूरोपीय संघ के निर्णय निर्माताओं के दिशानिर्देश के लिए तीन सिद्धांत प्रदान करता है: सामानों का सार्वभौमिक गंतव्य; गरीबों के लिए बेहतर विकल्प; न्याय और शांति।

यूरोपीय धर्माध्यक्षों ने अपने बयान में 2022 के शीलकालिन सत्र के दौरान इस अपील के साथ यूक्रेन एवं पूरे यूरोप में शांति की अपील की है।

 

Thank you for reading our article. You can keep up-to-date by subscribing to our daily newsletter. Just click here

08 November 2022, 16:02