खोज

कनाडा के मूलवासी संत पापा के संदेश को सुनते हुए कनाडा के मूलवासी संत पापा के संदेश को सुनते हुए  (2022 Getty Images)

'मैं यहां माता-पिता के लिए खड़ी हूँ, जिनके बच्चों को ले जाया गया, जेरी

कनाडा के आवासीय विद्यालयों की त्रासदी से बची जेरी शिगूज कलीसिया के साथ अपने संबंधों के बारे में बताती है। संत पापा फ्राँसिस इस त्रासदी में कलीसिया की भूमिका के लिए क्षमा मांगते हैं तो उसे उन लोगों के लिए खड़े होने की ताकत मिलती है,जो त्रासदी से बच नहीं पाये।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

एडमोंटन, बुधवार 27जुलाई 2022 (वाटिकन न्यूज) : जेरी शिगूज कनाडा के एडमोंटन के पास मास्कवासिस में थी और संत पापा फ्राँसिस के संदेश को सुन रही थी। संत पापा अपनी "प्रायश्चित तीर्थयात्रा" पर देश का दौरा कर रहे हैं।

जेरी ने वाटिकन न्यूज के 'मरीन हेनरियट' को बताया कि वह "नर्वस" थी। काथलिक कलीसिया के अधिकारियों से घिरे रहते हुए घबराहट महसूस की और मास्कवासिस में मूलवासियों के साथ संत पापा की बैठक में भाग लेने वाले कुछ पुरोहितों को देखकर भी घबरा गई।

चार भाई बहन

उसने कहा कि वह ऐसा इसलिए महसूस करती है क्योंकि वह एक आवासीय स्कूल की यातना से बची है, जिसने 1962 से 1971 तक मस्कोवेगुआन आवासीय विद्यालय में जीवन बिताया था। जेरी ने कहा, मेरे साथ, "मेरे भाई जॉर्ज ने ग्यारह साल तक पढ़ाई की, मेरी बहन डार्लिन ने दस साल तक पढ़ाई की और मेरी छोटी बहन कोनी छह साल तक अवासीय विद्यालय में रही।"

जेरी उन वर्षों के बारे में दूसरों से बात करने में सक्षम नहीं रही। उसने 2015 में ही अन्य छात्रों के साथ अपनी कहानी साझा करना शुरू कर दिया था। तब से, उसने प्राथमिक विद्यालय से विश्वविद्यालय तक लगभग 15,000 व्यक्तियों के साथ इसे साझा किया है।

उन्होंने कहा "मैं अपनी कहानी साझा करती हूँ क्योंकि मुझे हमारे इतिहास और जो हुआ उसके बारे में सच्चाई को बाहर निकालना पसंद है, ताकि लोगों को पता चले" क्योंकि, "उन्होंने स्कूल में यह नहीं सीखा"।

"दुनिया को यह जानने की जरूरत है कि क्या हो रहा है," जेरी ने जोर देते हुए कहा। उन्होंने अप्रैल में वाटिकन में एक मूलवासी प्रतिनिधिमंडल की यात्रा को याद किया। उसने कहा कि आवासीय स्कूल के मैदान में आज तक सैकड़ों बच्चों के कब्र पाए जाने का कोई उल्लेख नहीं था।

"मैं चाहती हूँ कि लोगों को पता चले कि वे शोक कर रहे हैं। हम दुखी हैं और हम उन छोटे बच्चों के लिए खेद महसूस करते हैं जिन्होंने इसे कभी घर नहीं बनाया।".

शब्दों से ज्यादा

एडमोंटन के कार्यक्रमों में भाग लेने के लिए जेरी को बहुत साहस की आवश्यकता थी। उसने 2010 में कलीसिया के साथ अपने रिश्ते को तोड़ दिया, उसी वर्ष जब उसने अपने दुर्व्यवहार का खुलासा किया और जो हुआ उसके बारे में बोलना शुरू किया।

उसने कहा, "मैं वास्तव में घबराई हुई हूँ और मैं अभी असहज महसूस कर रही हूँ।" उसने बताया कि उसने मास्कवासिस में आयोजित कार्यक्रम में भाग लिया और संत पापा के संदेश को सुना। "लेकिन मैं यहां हूँ, माफी की तलाश में हूँ और उम्मीद कर रहा हूँ। मैं शब्दों से ज्यादा कार्रवाई चाहती हूँ। मैं चाहती हूँ कि माफी मांगने की प्रक्रिया ठोस और वास्तविक हो" और "नुकसान और  की गई गलतियों के लिए जिम्मेदारी और जवाबदेही ली जाए" यही मैं ढूंढ रही हूँ।"

जेरी ने बताया कि उसका साहस उसी से आता है जिसके लिए वह खड़ी है। "मैं आज यहां अपने भाई जॉर्ज के लिए खड़ी हूँ। जॉर्ज को अपनी कहानी साझा करने के लिए कभी अवसर नहीं मिला। वह कभी पिता नहीं बने। उन्होंने स्नातक की डिग्री हासिल नहीं की, क्योंकि उसने आवासीय स्कूल में इतने बड़े आघात अनुभव किया।"

और जॉर्ज के साथ, जेरी अपने माता-पिता के लिए खड़ी है: "मेरी माँ और पिताजी, क्योंकि उनके बच्चों को ले जाया गया था।"

"आज, मैं उनके लिए खड़ी हूँ।"

 

 

Thank you for reading our article. You can keep up-to-date by subscribing to our daily newsletter. Just click here

26 July 2022, 16:44