खोज

प्रतीकात्मक तस्वीर प्रतीकात्मक तस्वीर  (ANSA)

कर्रा में गोहत्या मामले में गिरफ्तार चारो लोगों को मिली जमानत

कर्रा पल्ली में 5 जुलाई को खुशी पुनः लौट आयी जब फादर जोवाकिम बारला, मनीष तिड़ू, गुलशन होरो और जॉर्ज भेंगरा को खूंटी जेल से रिहा कर दिया गया। पल्लीवासियों ने कहा कि प्रशासन के सहयोग एवं अभियुक्तों के पक्ष में अच्छे रिपोर्ट के कारण उन्हें एक माह बाद ही रिहा कर दिया गया है।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

खूँटी, बुधवार 6 जुलाई 2022 (वीआर हिन्दी) ˸ कर्रा पल्लीवासियों ने जेल से रिहा हुए चारों का हार माला पहनाकर एवं फूल गुच्छे देकर स्वागत किया।

कर्रा की काथलिक कलीसिया के परिसर में गोहत्या के मामले में फादर जोवाकिम बारला (62), मनीष तिड़ू (30), गुलशन होरो (26) और जॉर्ज भेंगरा (40) को 28 मई को गिरफ्तार कर लिया गया था।  

विदित हो कि रोमन काथलिक पल्ली, कर्रा में 29 मई को होनेवाले पुरोहिताभिषेक की तैयारी को लेकर पल्ली परिसर में 28 मई की रात ख्रीस्तीय विश्वासी काफी संख्या में जुटे हुए थे। वहां लोगों के खाने-पीने की व्यवस्था की गयी थी। इसी बीच रात को ही कर्रा पुलिस को गुप्त सूचना मिली थी कि ख्रीस्तीयों द्वारा पल्ली में गोकशी की गयी है।

कर्रा थाना प्रभारी दीपक कुमार सिंह ने इसे गंभीरता से लेते हुए त्वरित कार्रवाई की और पुलिस बल के साथ आरसी चर्च पहुंचे एवं मामले की छानबीन की थी।

सूचना मिलते ही तोरपा के अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी ओम प्रकाश तिवारी, पुलिस इंस्पेक्टर दिग्विजय सिंह और कर्रा के अंचलाधिकारी बैद्यनाथ कामती भी पल्ली परिसर पहुंचे थे। जांच करने पर वहां प्रतिबंधित मांस मिला था। कर्रा के प्रखंड पशु चिकित्सक डॉ. सौरभ आनंद ने मांस का सैंपल लेकर जांच के लिए प्रयोगशाला भेज दिया था।

Thank you for reading our article. You can keep up-to-date by subscribing to our daily newsletter. Just click here

06 July 2022, 15:47