खोज

ख्रीस्तीय, यहूदी और मुस्लिम धर्मगुरू येरूसालेम में  यूक्रेन में शांति प्रार्थना हेतु एकत्रित ख्रीस्तीय, यहूदी और मुस्लिम धर्मगुरू येरूसालेम में यूक्रेन में शांति प्रार्थना हेतु एकत्रित  (AFP or licensors)

शांति की ओर 'लाल सागर पार करने' हेतु अंतरधार्मिक प्रार्थना

ख्रीस्तीय व्यवसायी एवं अन्य धर्मों के अनुयायी, यूद्ध के कारण पीड़ा और वैश्विक तनाव के बीच, 21 जून को विश्व शांति हेतु ऑनलाईन प्रार्थना में भाग लेने की तैयारी कर रहे हैं।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

यूएनआईएपीएसी में ख्रीस्तीय एकता एवं अंतरधामिक वार्ता की प्रतिनिधि नेलिदा अंकोरा ने कहा, "इस ऐतिहासिक क्षण में जब पूरी मानवता के भविष्य के लिए एक बड़ी चुनौती मंडरा रही है, हमारी सोच बाईबिल में वर्णित उस घटना की ओर जाती है जब "लाल समुद्र पार" की गई थी। जिस तरह मूसा ने मुक्ति के रास्ते की ओर इशारा किया था उसी तरह सभी धर्मों के धर्मगुरू एक साथ काम करना शुरू कर सकें, ताकि एक साथ ईश्वर के प्रतिज्ञात देश ˸ शांति और विकास तक पहुँचा जा सके।"  

प्रार्थना सभा का आयोजन नेलिदा अंकोरा ने किया है जिसको 21 जून को शाम 4 बजे (रोम समयानुसार) सम्पन्न किया जाएगा। विश्व शांति हेतु अंतरधार्मिक ऑनलाईन प्रार्थना में दर्ज करने के लिए आप यहाँ क्लिक करें।

यूएनआईएपीएसी एक ख्रीस्तीय एकता संगठन है जो ख्रीस्तियों को व्यापार की दुनिया में सामाजिक विचार हेतु प्रोत्साहन देता है।  

यूएनआईएपीएसी ने विभिन्न धर्मों के साथ मिलकर धार्मिक नेताओं का एक अंतरराष्ट्रीय दल बनाया है, जो इस आयोजन की मेजबानी करने के लिए दुनिया के सबसे अधिक दबाववाले मुद्दों से निपटने की मांग कर रहा है।

संत पापा के नेतृत्व का अनुसरण

शांति हेतु अंतरधार्मिक प्रार्थना ऐसे समय में हो रही है जब विश्व कई स्थानीय एवं वैश्विक तनावों का सामना कर रहा है जिसके बारे संत पापा फ्राँसिस ने कहा है कि यह टुकड़ों में लड़ा जा रहा विश्वयुद्ध है।

संत पापा ने ला चिविल्ता कत्तोलिका को दिये एक साक्षात्कार में कहा है, "मेरे लिए, आज तृतीया विश्व युद्ध की घोषणा हो चुकी है। यह हमें सोचने के लिए मजबूर करती है कि उस मानवता को क्या हो गया है जो एक ही सदी में तीन विश्व युद्धों का सामना कर रहा है। यह एक बड़ी विपत्ति है?"  

संत पापा ने यह बात रूस द्वारा यूक्रेन पर हमले के संबंध में कही है जिसको उन्होंने बुधवार को भी याद किया और शांति हेतु सभी लोगों के लिए प्रार्थना करने का आग्रह किया जो युद्ध और कई अन्य समस्याओं से जूझ रहे हैं।

विश्व शांति हेतु अंतरधार्मिक प्रार्थना का आयोजन, संत पापा की इच्छा पर गई है जिसमें सभी धर्मों के लोग शामिल होकर संघर्ष के अंत के लिए प्रार्थना कर सकते हैं।

युद्ध हरेक व्यक्ति की जिम्मेदारी है  

ठीक एक माह पहले शांति हेतु विभिन्न धर्मों एवं यूएनआईएपीएसी ने एक संयुक्त बयान जारी कर यूक्रेन में युद्ध की निंदा की थी। आम जनता की याद करते हुए शांति की खोज करनेवाले दो संगठनों ने बाईबिल की कहानी में काईन द्वारा अपने भाई हाबिल की हत्या की याद की।

ईश्वर ने काईन से पूछा, "तुम्हारा भाई कहाँ है?" काईन ने जवाब दिया, "मैं नहीं जानता। क्या मैं अपने भाई का रखवाला हूँ?" हमारा उत्तर आज जोर देकर "हाँ" कहना है। हम सभी अपने भाईयों के रखवाले हैं। हम प्रत्येक अपने भाइयों और बहनों के जीवन की रक्षा करने और उसे प्रोत्साहन देने के लिए बुलाये गये हैं।

मानव भ्रातृत्व का आलिंगन करना

उन्होंने कहा, "हम सभी को आम अच्छाई के लिए योगदान देना है भविष्य को ध्यान में रखते हुए वर्तमान में कार्य करना है।"

अंकोरा के अनुसार अंतरधार्मिक विश्व शांति प्रार्थना सभी लोगों के बीच एक ठोस जवाब की खोज है ताकि मानवता को संघर्ष के लाल समुद्र से मानवता एवं विकास के तट की ओर बढ़ने में मदद मिल सके।

Thank you for reading our article. You can keep up-to-date by subscribing to our daily newsletter. Just click here

16 June 2022, 17:06