खोज

लोगों ने मिनियापोलिस में आमिर लोके की पुलिस हत्या का विरोध किया लोगों ने मिनियापोलिस में आमिर लोके की पुलिस हत्या का विरोध किया  (2022 Getty Images)

ब्रिटेन व आयरलैंड के ख्रीस्तियों ने नस्लीय न्याय रविवार मनाया

जैसा कि ब्रिटिश और आयरिश ख्रीस्तीय कलीसिया और समाज में नस्लवाद और असमानता का जवाब देने के लिए नस्लीय न्याय रविवार को चिह्नित करते हैं, काथलिक कलीसिया इस वर्ष के विषय "ईश्वर की छवि और समानता" के आधार पर विभिन्न देशों और संस्कृतियों के पवित्र परिवार की प्रस्तुतियों का समारोह मनाया।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

लंदन, सोमवार 14 फरवरी 2022 (वाटिकन न्यूज) : नस्लीय न्याय रविवार एक ख्रीस्तीय एकता वर्धक समारोह है जो दक्षिण लंदन में एक अश्वेत किशोर स्टीफन लॉरेंस की नृशंस हत्या के बाद 1995 में ब्रिटेन और आयरलैंड में शुरू हुआ था।

इंग्लैंड और वेल्स के काथलिक धर्माध्यक्षीय सम्मेलन ने कहा कि 2022 के लिए चुनी गई थीम पिछले साल के नस्लीय न्याय रविवार, "ए टाइम टू एक्ट" (कार्य करने का समय) पर आधारित है, जो कलीसिया के अंदर हर किसी के लिए खुद को, उनकी जाति, उनकी संस्कृति और उनके इतिहास को पहचानने के महत्व को दर्शाती है। उन्होंने कहा कि 2022 में उनका उद्देश्य इन वार्तालापों को जारी रखना है कि हम दूसरों को "ईश्वर की छवि और समानता" में कैसे देखते हैं।

ईश्वर की छवि पर चिंतन

धर्माध्यक्षीय सम्मेलन ने पीडीएफ पोस्टर तैयार किया है जिसे हर पल्ली वासी यो अन्य लोग भी डाउनलोड कर सकते हैं, जिसमें विभिन्न देशों और संस्कृतियों की माता मरियम और बालक येसु को दिखाया गया है।

धर्माध्यक्षों ने कहा हालांकि पोस्टर किसी भी तरह से संपूर्ण नहीं है, परंतु उन्हें उम्मीद है कि यह श्रृंखला काथलिक समुदाय की समृद्ध विविधता पर प्रकाश डालती है और इस पर चिंतन करने हेतु प्रोत्साहित करती है कि हम सभी ईश्वर की छवि में बने हुए हैं।

पोस्टरों में संत पापा फ्राँसिस के विश्वपत्र फ्रातेल्ली तुत्ती से ली गई एक प्रार्थना भी है, जिसमें उन्होंने लिखा है कि हम सभी एक मानवता के महत्वपूर्ण और आवश्यक विभिन्न चेहरे हैं जिसे ईश्वर बहुत प्यार करते हैं।

उस विश्वपत्र का मुख्य संदेश इस बात का केंद्रित था कि बंधुत्व और सामाजिक मित्रता सभी के योगदान से एक बेहतर, अधिक न्यायपूर्ण और शांतिपूर्ण दुनिया के निर्माण की कुंजी है।

नस्लीय अन्याय के खिलाफ लगातार लड़ाई

नस्लीय न्याय के महत्व पर विचार करने और स्थानीय काथलिक समुदाय की जातीय और सांस्कृतिक विविधता को पहचानने के लिए दक्षिण-पूर्व लंदन में साउथवार्क के काथलिक महागिरजाघर में रविवार को नस्लीय न्याय का समारोह मनाने हेतु विशेष सामूहिक आयोजन किया गया।

ब्रिटेन में सर्वेक्षणों से पता चला है कि हाल के दशकों में नस्लीय अन्याय के खिलाफ लड़ाई में जहां काफी प्रगति हुई है, वहीं अभी भी बहुत काम करना बाकी है।

हाल ही में आई एक रिपोर्ट में कहा गया है कि ब्रिटेन में अश्वेत और एशियाई बच्चों के साथ भेदभाव और असमानता के कारण श्वेत बच्चों की तुलना में लगातार गरीबी में बढ़ने की संभावना दोगुनी हो गई है।

Thank you for reading our article. You can keep up-to-date by subscribing to our daily newsletter. Just click here

14 February 2022, 16:31