खोज

Vatican News
दूतों की माता मरियम गिरजाघर के अंदर पोरजुंकोला गिरजाघऱ दूतों की माता मरियम गिरजाघर के अंदर पोरजुंकोला गिरजाघऱ 

असीसी की क्षमा: प्रभु से हर व्यक्ति के लिए मांगा गया उपहार

1 और 2 अगस्त को असीसी में क्षमा का समारोह मनाया जाता है। विश्वासी जो पोरजुंकोला के दूतों की माता मरियम गिरजाघर में या दुनिया के किसी भी फ्रांसिस्कन गिरजाघर में जाते हैं, वे पूर्ण क्षमा प्राप्त करने में सक्षम होंगे। स्ट्रीमिंग के माध्यम से भी सभी समारोहों में भाग लिया जा सकता है। उम्ब्रिया और सार्देनिया के फ्रायर्स माइनर के प्रोविंशियल फादर फ्रांचेस्को पिलोनी बताते हैं, "क्षमा हर बच्चे के लिए पिता का आलिंगन है।"

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन न्यूज

असीसी, सोमवार 2 अगस्त 2021 (वाटिकन न्यूज) :"मैं प्रार्थना करता हूँ कि वे सभी जो पश्चाताप करते हैं और पाप स्वीकार संस्कार ग्रहण करने के लिए इस गिरजाघर में आते हैं, सभी पापों की पूर्ण क्षमा के साथ पर्याप्त उदार मोचन प्राप्त करें।" यह असीसी के संत फ्रांसिस का प्रभु से दुस्साहस अनुरोध था। 1216 में एक रात को उनके सामने प्रभु प्रकट हुए थे, जब वे पोरजुंकोला गिरजाघर में प्रार्थना में लीन थे। सूत्रों के अनुसार, उन्होंने अचानक खुद को प्रकाश की किरण से घिरा पाया। प्रभु ने उन्हें यह कृपा प्रदान किया और फ्रांसिस असीसी तुरंत अनुमति प्राप्त करने के लिए संत पापा होनोरियस तृतीय के पास गए और 2 अगस्त 1216 को, एक बड़ी भीड़ के सामने, उम्ब्रिया के धर्माध्यक्ष की उपस्थिति में उन्होंने महान क्षमा की घोषणा की। उस दिन, फ्रांसिस ने ओक पेड़ की छाया में शरण लिए हुए लोगों से कहा: "भाइयों, मैं आप सभी को स्वर्ग भेजना चाहता हूं और मैं उस अनुग्रह की घोषणा करता हूँ जो मुझे परमाध्यक्ष संत पापा से प्राप्त हुआ है।"

पापों से मुक्ति

असीसी के संत फ्राँसिस की घोषणा के बाद से वह दिन पोरजुंकोला के खजाने के जन्म का प्रतीक बन गया। उस दिन अपने पापों या मृतकों के पापों की क्षमा के लिए मोचन का अनुरोध किया जा सकता है। इसे प्राप्त करने के लिए पाप स्वीकार संस्कार ग्रहण करने की आवश्यकता है साथ ही पवित्र मिस्सा में भाग लेकर पवित्र युखरिस्त ग्रहण करना है। अपने विश्वास को नवीकृत करने के लिए धर्मसार की प्रार्थना, हे पिता हमारे की प्रार्थना और अंत में संत पापा के मतलबों के लिए प्रार्थना करना है। पोरजुंनकोला के गिरजाघऱ में हरदिन प्राप्त होने वाली दंडमोचन, 1 अगस्त के 12 बजे अपराहन से 2 अगस्त के 12 बजे रात तक दुनिया भर के सभी पल्ली गिरजाघरों और सभी फ्रांसिस्कन गिरजाघऱों में प्राप्त की जा सकती है।

समारोह का कार्यक्रम

रविवार 1 अगस्त को सुबह 11 बजे ऑर्डर ऑफ फ्रायर्स माइनर के नवनिर्वाचित जनरल फादर सोलेमन पवित्र युखरीस्त समारोह की अध्यक्षता करेंगे जो "क्षमा के उद्घाटन" जुलूस के साथ समाप्त होगा: उस क्षण से, सोमवार 2 अगस्त की मध्यरात्रि तक, दुनिया भर के सभी पल्लियों के गिरजाघरों और सभी फ्रांसिस्कन गिरजाघरों में दंडमोचन प्रप्त किया जा सकता है।

 सोमवार को 11.30 बजे, कार्डिनल मौरो पियासेंज़ा, दंडमोचन पवित्र मिस्सा समारोह की अध्यक्षता करेंगे। जबकि शाम 7 बजे दंडमोचन की संध्या प्रार्थना की अध्यक्षता उम्ब्रिया और सार्डिनिया के फ्रायर्स माइनर प्रोविशियल फादर फ्रांचेस्को पिलोनी करेंगे। अंत में, 20.00 बजे, पोरजुंकोला से लाइव, युवा जागरण प्रार्थना निर्धारित है। पोरजुंकोला वेब टीवी और फ्रायर्स के सामाजिक चैनलों के माध्यम से सभी मुख्य कार्यक्रमों कमें भाग ले पाना संभव होगा।

क्षमा: पिता के आलिंगन में वापसी का रास्ता

उम्ब्रिया और सार्डिनिया के फ्रायर्स माइनर के प्रोविंशियल फादर फ्रांचेस्को पिलोनी बताते हैं कि पिता के साथ एक रिश्ते की वापसी "असीसी की क्षमा एक" सुपर "उपहार है जो फ्रांसिस हर समय और स्थान के प्रत्येक व्यक्ति को देना चाहते थे। एक परेशान रात में, संत फ्रांसिस ने महसूस किया कि ईश्वर जो हर व्यक्ति की देखभाल करते हैं वे चाहते हैं कि हर व्यक्ति अपने वास्तविक घर, अपने निवास की याद करे और उनके साथ संबंध बनाये रखे। अपने पापों के लिए पश्चताप करते हुए हर कोई पिता ईश्वर के आलिंगन को महसूस कर सकता है, जो हमेशा हमारे साथ रहते हैं।"

02 August 2021, 15:10