खोज

Vatican News
पवित्र बाईबिल पवित्र बाईबिल 

इटली ˸ स्तोत्र पर 24वाँ राष्ट्रीय बाईबिल सप्ताह

इटली में 5 से 9 जुलाई तक 24वां राष्ट्रीय बाईबिल सप्ताह का आयोजन किया गया है जिसकी मुख्य विषयवस्तु है - स्तोत्र ग्रंथ।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

इटली, शनिवार, 3 जुलाई 2021 (रेई)- इटली के कासेरता एवं कम्पानिया में आगामी 5 से 9 जुलाई तक राष्ट्रीय बाईबिल सप्ताह रखा गया है। कार्यक्रम का आयोजन बाईबिल प्रेरिताई हेतु धर्मप्रांतीय केंद्र द्वारा  इताली बाईबिल संघ के तत्वधान में किया गया है।

राष्ट्रीय बाईबिल सप्ताह के मुख्य प्रवक्ता होंगे- अपुलिया ईशशास्त्र विभाग के प्रोफेसर फादर सेबस्तियनो पिंटो और रोम में हॉली क्रूस के ईशशास्त्र विभाग के प्रोफेसर फादर यूसेबियो गोंजालेस। कोविड-19 महामारी को देखते हुए, कार्यक्रम का तरीका मिस्रित होगा, जिसमें 200 लोग उपस्थित होंगे जबकि बाकी लोगों कासेरता धर्मप्रांत के वेब पेज पर ऑनलाईन के माध्यम से बाईबिल सप्ताह में भाग ले सकते हैं।

कार्यक्रम को प्रस्तुत करते हुए कासेरता के धर्माध्यक्ष पियत्रो लागनेसे ने एक पत्र में लिखा, "स्तोत्रों का संग्रह, निःसंदेह, सुविख्यात, यादगार तथा पुराने व्यवस्थान की उद्धृत पुस्तक है और सुसमाचार के बाद, निश्चय ही, पूरे बाईबिल में सर्वाधिक पढ़ी जाने एवं टिप्पणी की जानेवाली किताब है।”

येसु ने स्तोत्र से प्रार्थना की, अतः इस्राएलियों की प्रार्थना, ख्रीस्तीय समुदाय के लिए भी प्रिय थी जो स्तोत्र संग्रह को अपने विश्वास को पोषित करने के लिए एक बहुमूल्य स्रोत के रूप में जानते थे। धर्माध्यक्ष ने जोर दिया कि ख्रीस्तियों ने शुरू से ही हमेशा स्तोत्र ग्रंथ का पाठ किया है, जो उनके इतिहास में, यात्रा में और ख्रीस्तीय समुदाय में, कलीसिया की बुलाहट में और हरेक बपतिस्मा प्राप्त व्यक्ति में उन्हें प्रेरित किया है और उनकी आशा को बनाये रखने हेतु बल प्रदान किया है।

धर्माध्यक्ष की उम्मीद है कि आगामी बाईबिल सप्ताह सभी के लिए एक अवसर होगा जहाँ हम स्तोत्र की प्रार्थनाओं पर चिंतन करेंगे और उनमें ज्योति एवं शक्ति प्राप्त करेंगे ताकि हमारी यात्रा में अथक रूप से आगे जाने हेतु शक्ति मिले।  

इटली में राष्ट्रीय बाईबिल सप्ताह की शुरूआत 1997 में हुई थी जब "संत मारकुस रचित सुसमाचार" पर ध्यान केंद्रित किया गया था।

03 July 2021, 14:29