खोज

Vatican News
बाल्टिक सागर में दुर्घटना के बाद स्वीडेन का जहाज बाल्टिक सागर में दुर्घटना के बाद स्वीडेन का जहाज  (Stefan Jerrevang)

समुद्र रविवारःस्टेला मारिस ने नाविकों के कार्यों को याद किया

सागर रविवार के दिन अंतरराष्ट्रीय संस्था स्टेला मारिस के निदेशक, फादर ब्रूनो सिसेरी ने, नाविकों द्वारा किए गए काम के लिए और एक वैश्विक महामारी के बीच हमारे जीवन को और अधिक आरामदायक बनाने के लिए सामानों की परिवहन के लिए प्रशंसा की।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, सोमवार 12 जुलाई 2021 (वाटिकन न्यूज) : वार्षिक समुद्र रविवार, जो इस वर्ष 11 जुलाई को मनाया जा रहा है, हमें नाविकों के जीवन और कार्य के लिए धन्यवाद देने हेतु आमंत्रित करता है और उनके और उनके परिवारों के लिए प्रार्थना करने का अवसर प्रदान करता है।

वर्तमान में व्यापार जहाजों पर लगभग 2 मिलियन नाविक हैं, जो इलेक्ट्रॉनिक्स से लेकर भोजन और दवा तक सब कुछ एक देश से दूसरे देश तक ले जाते हैं।

महामारी का दंश

यह अनुमान लगाया गया है कि सितंबर 2020 में कोविड-19 महामारी के बीच चालक दल में बदलाव करने की कठिनाइयों के कारण 400,000 नाविक अभी भी अपने जहाजों पर फंसे हुए हैं। अंतर्राष्ट्रीय समुद्री संगठन (आईएमओ) के अनुसार, अन्य 400,000 "घर पर फंसे हुए हैं, जहाजों में शामिल होने और अपने परिवारों के लिए आर्थिक समर्थन प्रदान करने में असमर्थ हैं"।

इसमें कोई संदेह नहीं है कि मत्स्य पालन जैसे क्षेत्रों पर महामारी का गंभीर प्रभाव पड़ा है, फिर भी नाविकों की कड़ी मेहनत के माध्यम से, प्रकोप के दौरान दुनिया भर में सुपरमार्केट की आलमारियों में सामानों का स्टॉक रखना जारी रखा गया है।

स्टेला मारिस जैसे उदार संगठनों के लिए यह और भी अधिक जरुरी है कि नाविकों को प्रमुख कार्यकर्ताओं के रूप में पहचाना जाना चाहिए और टीकाकरण किया जाना चाहिए, ताकि वे इस महामारी के दौरान अपना महत्वपूर्ण कार्य जारी रख सकें।

फादर ब्रूनो सिसेरी रोम में समग्र मानव विकास को बढ़ावा देने के लिए बने विभाग पर आधारित स्टेला मारिस नेटवर्क के अंतर्राष्ट्रीय निदेशक हैं। वाटिकन न्यूज के साथ एक साक्षात्कार में, उन्होंने वर्तमान स्थिति को "बहुत कठिन" बताया, कुछ नाविकों ने मानसिक तनावों का सामना किया और यहां तक कि कुछ ने आत्महत्या तक कर दिया।

टीकाकरण

टीकाकरण के सवाल पर, फादर सिसेरी ने कहा, "संयुक्त राष्ट्र के महासचिव, आईएमओ और आईएलओ के सचिव ने भी बहुत सारी अपीलें थीं, यहां तक ​​कि संत पापा फ्राँसिस ने यह अनुरोध किया कि नाविकों को प्रमुख कार्यकर्ता घोषित किया जाए।"

उन्होंने कहा कि वैक्सीन तक पहुंचने में सक्षम होना प्रत्येक देश पर निर्भर करता है। बेल्जियम और संयुक्त राज्य अमेरिका जैसे देशों में  चालक दल के सदस्य अपना टीका प्राप्त करने के लिए नाविक केंद्र जा सकते हैं। हालांकि, अन्य देशों में, वैक्सीन प्राप्त करने में सक्षम होना बहुत अधिक कठिन साबित हुआ है।

समुद्री डकैती

कुछ साल पहले 2011 और 2012 में, समुद्री डकैती का मुद्दा बड़े पैमाने पर था, सैकड़ों जहाजों को अदन की खाड़ी जैसे क्षेत्रों में उनके माल को लूटा जाता था।

फादर सिसेरी ने कहा कि हालांकि स्थिति में सुधार हुआ है, लेकिन पिछले एक साल में कम से कम 38 घटनाएं हुई हैं। उन्होंने बताया कि समुद्री डकैती विशेष रूप से पश्चिम अफ्रीका, नाइजीरिया, आइवरी कोस्ट, बेनिन और टोगो में नाविकों के लिए एक वास्तविक खतरा है।

स्टेला मारिस निदेशक ने कहा कि दुनिया के अन्य हिस्सों में, अपराधियों द्वारा खतरा उत्पन्न किया गया है। वे जहाजों  पर जो कुछ भी पाते हैं उसे चुराने की कोशिश करते हैं।" उन्होंने आगे कहा कि यह जरूरी है कि जहाज के मालिक अपने जहाजों को यथासंभव सुरक्षित बनाएं।

समुद्र रविवार

जैसा कि इस 11 जुलाई को दुनिया भर में सागर रविवार मनाया जाता है, फादर सिसेरी ने कहा कि यह याद रखना महत्वपूर्ण है कि महामारी के बीच भी नाविक काम करते रहे। "वे एक बंदरगाह से दूसरे बंदरगाह पर माल पहुंचाने के लिए तथा  दवा पहुँचाने के लिए भी जाते हैं।" उन्होंने इस बात पर प्रकाश डाला कि लॉकडाउन की अवधि के दौरान, लोगों ने अनुभव किया कि कुछ समय के लिए सीमित स्थानों में रहना कैसा होता है।

फादर सिसेरी ने जोर देते हुए कहा कि नाविकों को उनके अनुबंधों की अवधि के लिए काम दिया जाता है, जो कि न्यूनतम नौ महीने है। उन्होंने यह भी कहा कि, महामारी के बीच, वे अपने जहाजों को भी नहीं छोड़ सकते।

स्टेला मारिस के अंतर्राष्ट्रीय निदेशक ने कहा, यह ध्यान देने योग्य है कि हमारे द्वारा उपभोग किए जाने वाले सामानों का 90% हमें जहाजों के माध्यम से प्राप्त होता है। उन सामानों के लिए जो वे हमारे जीवन को और अधिक आरामदायक बनाने के लिए लाते हैं, हम नाविकों के प्रति आभारी हैं।"

 

12 July 2021, 15:13