खोज

Vatican News
रोम के सन्त इजिदियो उद्यान में  रोम के सन्त इजिदियो उद्यान में  

वयोवृद्धों को समर्पित दिवस हेतु सन्त पापा के सन्देश का स्वागत

आयरलैण्ड के काथलिक धर्माध्यक्षों ने दादा-दादी और बुजुर्गों को समर्पित प्रथम विश्व दिवस के लिये सन्त पापा फ्राँसिस के संदेश का गर्मजोशी से स्वागत किया है तथा इस अवसर को मनाने के लिए वे आयरलैण्ड की समस्त पल्लियों को प्रोत्साहित कर रहे हैं।

जूलयट जेनेवीव क्रिस्टफर-वाटिकन सिटी

डबलिन, शुक्रवार, 25 जून 2021 (वाटिकन न्यूज): आयरलैण्ड के काथलिक धर्माध्यक्षों ने दादा-दादी और बुजुर्गों को समर्पित प्रथम विश्व दिवस के लिये सन्त पापा फ्राँसिस के संदेश का गर्मजोशी से स्वागत किया है तथा इस अवसर को मनाने के लिए वे आयरलैण्ड की समस्त पल्लियों को प्रोत्साहित कर रहे हैं।

गुमनाम अभिनायक

आयरलैण्ड के काथलिक धर्माध्यक्षीय सम्मेलन की विवाह एवं परिवार समिति के अध्यक्ष धर्माध्यक्ष डेनिस नल्टी ने नाना-नानी, दादा-दादी, वयोवृद्धों, बुज़ुर्ग पुरोहतों एवं धर्मसमाजियों को कोविद-19 महामारी के गुमनाम अभिनायक घोषित करते हुए कहा, "एक समाज के रूप में हमने इतनी सारी चुनौतियों का सामना करते हुए उनके आत्मसंयम, समर्पण और व्यावहारिकता से बहुत कुछ सीखा है।"

मैं सदैव तुम्हारे साथ हूँ, सन्त मत्ती रचित सुसमाचार का यह वाक्य वयोवृद्धों को समर्पित प्रथम विश्व दिवस का विषय है, जो 25 जुलाई को मनाया जायेगा।

संत पापा फ्राँसिस के संदेश का स्वागत करते हुए, धर्माध्यक्ष नल्टी कहते हैं कि इसमें, संत पापा हमें याद दिलाते हैं कि महामारी के इस समय में सम्पूर्ण कलीसिया को सभी बुजुर्गों और दादा-दादी के करीब होना चाहिए।

प्रोत्साहन दें

धर्माध्यक्ष नल्टी ने कहा कि अपने परमाध्यक्षीय काल के आरम्भ से ही सन्त पापा फ्राँसिस ने बुज़ुर्गों के अनेकानेक हुन्नरों को मान्यता प्रदान करने की अपील की है तथा इस दिवस के लिये चुने गये विषय में पीढ़ियों के बीच सम्बन्ध को रेखांकित करना चाहा है। उन्होंने कहा कि इसीलिये केवल युवाओं का ही दायित्व नहीं है कि वे वयोवृद्धों के जीवन में उपस्थित रहें अपितु वयोवृद्धों का भी मिशन है कि वे विश्वास की तीर्थयात्रा में युवाओं को नित्य आगे बढ़ते जाने के लिये प्रोत्साहित करते रहें।   

25 June 2021, 11:17