खोज

Vatican News
महामारी के बीच गरीबों की मदद करते स्वयंसेवक महामारी के बीच गरीबों की मदद करते स्वयंसेवक  (2021 Getty Images)

27 जून को पोप के लिए चैरिटी दिवस

पेरू के काथलिक धर्माध्यक्षीय सम्मेलन ने अपने वेबसाईट पर 7 जून को एक वीडियो संदेश जारी कर, सभी भली इच्छा रखने वाले लोगों को निमंत्रण दिया है कि देश की सभी पल्लियाँ एवं कलीसियाएँ, 27 जून को परम्परागत पेत्रुस के दानसंग्रह में भाग लें।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

पेरू, मंगलवार, 8 जून 2021 (वीएनएस)- पेत्रुस के दानसंग्रह का आदर्शवाक्य है, "एक हृदय जो समाज के घावों को देखना जानता है और उदार कार्य में रचनात्मक हाथ है।"

पेरू की कलीसिया ने पिछले साल की तरह पोप के उदार दान के लिए फंड बढ़ाने की घोषणा की है, ताकि सबसे जरूरतमंद लोगों को मदद किये जाने के पोप के कार्य को समर्थन दिया जा सके। इस अनुदान राशि को मुख्य रूप से भूखमरी और बेरोजगारी से जूझ रहे लोगों के लिए प्रयोग किया जाएगा, जो विश्वभर के लोगों को परेशान कर रहा है खासकर, इस महामारी के समय में।

धर्माध्यक्षों के वेबसाईट में कहा गया है कि उदार कार्यों के लिए भौतिक सहायता प्रदान करना बहुत पुराना है और इसका जन्म ख्रीस्तीय धर्म के साथ हुआ है, सबसे जरूरतमंद लोगों के प्रति समर्पण एवं उनकी देखभाल के द्वारा।

आठवीं शताब्दी के अंत में, एंग्लो-सैक्सन ने अपने धर्मांतरण के बाद, हर साल पोप को योगदान भेजने का फैसला किया था। इस तरह "देनारियुस संती पेत्री" (संत पेत्रुस के लिए दान) जल्द ही यूरोपीय देशों में फैला गया। कई उत्तार चढ़ाव के बाद, पोप पियुस 9वें ने विश्व पत्र साईपे वेनेराबिलिस के साथ इस अभ्यास को जारी किया।

08 June 2021, 15:57