खोज

Vatican News
पेरू में कोरोना संक्रमित क्षेत्रों में वेंटीलेटर भेजते, पेरू के धर्माध्यक्ष पेरू में कोरोना संक्रमित क्षेत्रों में वेंटीलेटर भेजते, पेरू के धर्माध्यक्ष 

हौरी के धर्माध्यक्ष का निधन कोविड-19 से

पेरू के धर्माध्यक्ष इवो बाल्दी गाबूर्री का निधन 11 जून को कोविड-19 के कारण हुआ। वे पेरू के पहले धर्माध्यक्ष हैं जिनकी मृत्यु कोविड-19 से संक्रमित होने के कारण हुई है।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

पेरू, शनिवार, 12 जून 2021 (रेई)- "गहरे दुःख किन्तु पुनरूत्थान की आशा के साथ" पेरू की कलीसिया ने कल घोषित किया कि 11 जून को हौरी के धर्माध्यक्ष इवो बाल्दी गाबुर्री का निधन कोविड-19 के कारण हुआ।

पेरू के काथलिक धर्माध्यक्षीय सम्मेलन ने एक विज्ञप्ति जारी कर सभी विश्वासियों से अपील की है कि वे धर्माध्यक्ष बाल्दी गाबुर्री की आत्मा की अनन्त शांति के लिए प्रार्थना करें कि "हमारे प्रभु येसु ख्रीस्त उनके परिवार एवं हौरी धर्मप्रांत के सभी पल्लीवासियों को इस कठिन समय में शक्ति प्रदान करे।"

धर्माध्यक्षों ने विश्वासियों को सूचित किया है कि वे फेसबुक के माध्यम से अंतिम संस्कार के मिस्सा बलिदान में वर्चुवल रूप से भाग ले सकते हैं।  

धर्माध्यक्ष इवो बाल्दी गाबुर्री का जन्म इटली के चित्ता दी कस्तेल्लो में 27 मार्च 1947 को हुआ था। उन्होंने दर्शनशास्त्र और ईशशास्त्र की पढ़ाई असीसी के सेमिनरी से की। 9 अक्टूबर 1971 को उनका पुरोहिताभिषेक हुआ। 1975 को वे पेरू गये तथा हौरी धर्मप्रांत में सेवा देने लगे। वहाँ वे पिस्कोबम्बा और सन मार्कोस के पल्ली पुरोहित रहे। उसके बाद पोमाल्लुकाए तीर्थस्थल पर सेमिनरी के रेक्टर बने और साथ ही हौरी भिखारियेट के विकर जेनेरल भी बने। 14 दिसम्बर 1999 को संत जॉन पौल द्वितीय ने उन्हें हुवाराज धर्मप्रांत का धर्माध्यक्ष नियुक्त किया। उनका धर्माध्यक्षीय पावन अभिषेक 6 जनवरी को रोम में हुआ था। 2 अप्रैल 2008 को संत पापा बेनेडिक्ट 16वें ने हौरी को धर्मप्रांत का दर्जा दिया और धर्माध्यक्ष बाल्दी को इन नये धर्मप्रांत का धर्माध्यक्ष नियुक्त किया। वे 8 जून 2008 से ही हौरी धर्मप्रांत के धर्माध्यक्ष के रूप में पेरू की कलीसिया को अपनी सेवा दे रहे थे।

 

12 June 2021, 14:42