खोज

Vatican News
प्रतीकात्मक तस्वीर प्रतीकात्मक तस्वीर  (AFP or licensors)

चेक गणराज्य में तूफान पीड़ितों के प्रति कलीसिया की निकटता

कुछ दिन पहले चेक गणराज्य के ब्रेक्लाव और होदोनिन जिलों में आये भयानक तूफान से पूरे गांव बह गए, इमारतें उखड़ गईं, पेड़ उखड़ गए, कारें उलट गईं और सबसे बढ़कर, पांच मृत और सैकड़ों घायल हो गए।कलसिया पीड़ितों की मदद कर रही है।

माग्रेट सुनीता मिंज- वाटिकन सिटी

चेक गणराज्य, सोमवार 28 जून 2021 (रेई) : चेक गणराज्य के दो  दक्षिणपूर्वी क्षेत्र में 219 किमी / घंटा की गति से आये विनाशकारी तूफान जिसने अपने रास्ते में मिली हर चीज को अपने साथ खींच लिया। काथलिक कलीसिया तुरंत ही पीड़ितों की राहत में जुट गई। 25 जून को, ब्रनो के धर्माध्यक्ष  वोजटच सिक्रले, व्यक्तिगत रूप से मोरावस्का नोवा वेस गए, जो तूफान से सबसे अधिक प्रभावित क्षेत्र था, जिससे आबादी को सांत्वना मिली। धर्माध्यक्ष ने कहा - "गांवों में घर बिना छत के हैं, बिना शीशे की खिड़कियाँ"। सौभाग्य से, उदार दानदाताओं की एकजुटता तुरंत शुरू हुई। उन्होंने वित्तीय योगदान की पेशकश की है, लेकिन अनेक परिवार बेघर हो गए हैं।

धर्माध्यक्ष सिक्रले ने कहा, "'हंगरी हेल्प्स' कार्यक्रम के हिस्से के रूप में हंगरी ने ह्रुस्की में संत बार्थोलोम गिरजाघऱ की मरम्मत के लिए 10 मिलियन फॉरिंट्स (28 हजार यूरो के बराबर) का उपहार भेजा। ब्रनो धर्मप्रांतीय कारितास ने पहले ही 50 मिलियन क्राउन्स (या लगभग 2 मिलियन यूरो) की राशि पंजीकृत कर ली है। मैं एकजुटता और त्वरित मदद के लिए सभी की सराहना करता हूँ और धन्यवाद देता हूँ। आप लोगों और पल्लिवासियों को इस उम्मीद को जगाने में मदद कर रहे हैं कि सब कुछ फिर से बेहतर हो जाएगा।"

चेक गणराज्य काथालिक कलीसिया की निकटता

चेक गणराज्य की काथालिक कलीसिया ने सभी पीड़ितों और उनके परिवारों के लिए प्रार्थना की। कल, 27 जून को होडोनिन में संत वावरिन्स गिरजाघऱ में, सभी पीड़ितों के लिए प्रार्थना सभा आयोजित किया गया था। जबकि पूरे ब्रनो धर्मप्रांत में तूफान से प्रभावित सभी लोगों के लिए विशेष प्रार्थना और एक असाधारण संग्रह शुरू किया गया है। स्थानीय धर्माध्यक्षों ने कहा - "आइए हम प्रार्थना करें,ताकि इन कठिन दिनों में, परिवारों को अपने घरों और समुदायों की मरम्मत और पुनर्निर्माण के लिए मदद और आवश्यक शक्ति मिले।" उन्होंने कहा "हम सभी से इस समय सबसे बड़ी जरूरत वाले लोगों की मदद करने और उदारता और आपसी एकजुटता दिखाने हेतु अपील करते हैं।"

संत पापा की निकटता

विदित हो कि प्राकृतिक आपदा के पीड़ितों को भी संत पापा फ्राँसिस की निकटता और एकजुटता मिली। संत पापा ने कल, देवदूत प्रार्थना के अंत में, उन्हें सांत्वना के शब्दों में संबोधित किया: "मैं दक्षिण-पूर्वी लोगों के करीब हूँ चेक गणराज्य का हिस्सा जो एक मजबूत तूफान की चपेट में आ गए थे। मैं मृतकों और घायलों के लिए और उन सभी के लिए प्रार्थना करता हूँ जिन्हें बुरी तरह से क्षतिग्रस्त अपने घरों को छोड़ना पड़ा।"

28 June 2021, 15:54