खोज

Vatican News
स्टेला मारिस काथलिक प्रेरितिक संगठन का लोगो स्टेला मारिस काथलिक प्रेरितिक संगठन का लोगो 

गिनी की खाड़ी में समुद्री डकैती के अन्त का आह्वान

वाटिकन स्थित स्टेल्ला मारिस लोकोपकारी अन्तरराष्ट्रीय काथलिक संगठन ने गिनी की खाड़ी में समुद्री डकैती के बढ़ने के बाद इसके अन्त का आह्वान किया है।

जूलयट जेनेवीव क्रिस्टफर-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, शुक्रवार, 28 मई 2021 (वाटिकन न्यूज़): वाटिकन स्थित स्टेल्ला मारिस लोकोपकारी अन्तरराष्ट्रीय काथलिक संगठन ने गिनी की खाड़ी में समुद्री डकैती के बढ़ने के बाद इसके अन्त का आह्वान किया है।

समुद्र एवं समुद्री तटों पर सेवारत कार्यकर्त्ताओं की प्रेरितिक सेवा में संलग्न स्टेल्ला मारिस काथलिक लोकोपकारी संगठन के निर्देशक फादर ब्रूनो चिचेरी ने एक घोषणा पर हस्ताक्षर कर समुद्री डकैती को समाप्त किये जाने का आह्वान किया।

समुद्री डाकुओं का हमला अस्वीकार्य

समुद्री डकैती के अभिशाप पर बोलते हुए फादर ब्रूनो ने कहा, "हम समुद्री डकैती के खिलाफ लड़ाई में सभी पक्षों के प्रयासों को पूरा समर्थन देते हैं। यह अस्वीकार्य है कि विश्व व्यापार को गतिमान रखनेवाले गुमनाम नायक और नाविक समुद्री डाकुओं के हमलों का शिकार होते रहते हैं। वैश्विक अर्थव्यवस्था को बाधित करने के अलावा, नाविकों पर अनवरत बना ख़तरा नाविकों और उनके परिवारों को काफी नुकसान पहुँचाता तथा उनमें तनाव उत्पन्न कर देता है।"

गिनी की खाड़ी  तथा उसके आस-पास के क्षेत्रों में बढ़ते हमलों के जवाब में घोषणा का प्रारूप तैयार किया गया था जिसमें राज्यों के प्रशासन, जहाज मालिकों, चार्टरर्स और शिपिंग संघों सहित समुद्री उद्योग में लगे संगठनों द्वारा हस्ताक्षर किए गए हैं।

नाविकों का अपहरण एवं हत्या

अन्तरराष्ट्रीय समुद्री ब्यूरो के अनुसार, 2021 के प्रथम तीन माहों में, समुद्री डकैती पर दर्ज़ की गई रिपोर्टों में 43 प्रतिशत समुद्री डकैती की घटनाएँ गिनी की खाड़ी में घटी, जहाँ 40 समुद्री कार्यकर्त्ताओं का अपहरण कर लिया गया तथा एक को मार डाला गया।   

2020 में, स्टेल्ला मारिस के पुरोहितों ने तीन समुद्री डकैती के मामलों में नाविकों का समर्थन किया था तथा  हमलों से प्रभावित नाविक दलों सदस्यों को महत्वपूर्ण प्रेरितिक सेवाएँ प्रदान कीं थी।

दीर्घकालिक समाधान ढूंढने का आह्वान

नाइजीरिया में लागोस के एक मामले में, स्टेल्ला मारिस के पुरोहित हमले के बाद नाविक दल के सदस्यों से मिलने के लिए समुद्र में एक जहाज़ पर भी गये थे।

स्टेल्ला मारिस ने कहा कि उसे उम्मीद है कि सरकारें और प्रवर्तन एजेंसियां ​​चोरी की समस्या का अधिक स्थायी और दीर्घकालिक समाधान ढूंढ सकेंगी और अपराधियों को न्यायोचित दण्ड दिलवा सकेंगी।

नाविकों एवं मछुओं से उन्होंने आशा का परित्याग न करने की अपील की  तथा हर समय नाविकों एवं मछुओं की मदद का आश्वासन दिया।

28 May 2021, 11:39