खोज

Vatican News
मोमबत्ती मोमबत्ती  (ANSA)

झाबुआ के धर्माध्यक्ष बसिल भूरिया का निधन

झाबुआ (एमपी) के धर्माध्यक्ष बसिल भूरिया एसवीडी का निधन कोविड-19 के कारण 6 मई को हुआ।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

झाबुआ, बृहस्पतिवार, 6 मई 2021 (वीएन हिन्दी)- झाबुआ के धर्माध्यक्ष बसिल भूरिया का निधन 6 मई को इंदौर के संत फ्राँसिस अस्पताल में दिन के करीब 1.10 बजे हुआ। वे एक माह से कोविड-19 से संघर्ष कर रहे थे।

मिली जानकारी के अनुसार उन्हें पहले संत फ्राँसिस अस्पताल में भर्ती किया गया था किन्तु लगातार ऑक्सिजन की आवश्यकता के कारण उन्हें चोइथराम हॉस्पिटल इंदौर में शिफ्ट किया गया था। धर्माध्यक्ष के आग्रह पर उन्हें आज सुबह संत फ्राँसिस अस्पताल वापस लाया गया था जहाँ उनकी मृत्यु हो गई।

संत पापा फ्राँसिस ने 18 जुलाई 2015 को उन्हें झाबुआ का धर्माध्यक्ष नियुक्त किया था।

धर्माध्यक्ष भूरिया का जन्म 8 मार्च 1956 को झाबुआ के पंचकुई पल्ली में हुआ था। उन्होंने अपने दर्शनशास्त्र एवं ईश शास्त्र की पढ़ाई पुणे के परमधर्मपीठीय अंतेनियानुम से की थी।

उन्होंने 12 जून 1985 को दिव्य वाणी के धर्मसमाज में आजीवन व्रत धारण किया था एवं 5 मई 1986 को पुरोहिताभिषेक प्राप्त किया था।  

उन्होंने बरोदा धर्मप्रांत के मुवालिया, इंदौर के धार और झाबुआ के राजगढ़ पल्लियों में अपनी सेवाएँ दी थीं। उन्होंने धर्माध्यक्ष बनने से पहले, एक पुरोहित के रूप में झाबुआ के मरियम के निष्कलंक हृदय के पल्ली पुरोहित के रूप में भी अपनी सेवा दी थी।

06 May 2021, 16:38