खोज

Vatican News
यमन के लोगों को सीआरएस द्वारा  खाद्य सामग्री वितरण यमन के लोगों को सीआरएस द्वारा खाद्य सामग्री वितरण  (ANSA)

काथलिक राहत सेवी संग्रह को 'मानव प्रतिष्ठा की रक्षा' हेतु बढ़ावा

13 से 14 मार्च के लिए निर्धारित काथलिक राहत सेवा के वार्षिक संग्रह को कोविद -19 महामारी के चल रहे प्रभावों द्वारा चिह्नित इस समय सबसे कमजोर और जरूरतमंदों के लिए प्रदान किया जाएगा।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

सिएटल, बुधवार 10 मार्च 2021 (वाटिकन न्यूज) : भूख, युद्ध, प्राकृतिक आपदाओं, नस्लीय अन्याय, धार्मिक उत्पीड़न और चल रहे कोविद -19 महामारी के प्रभाव से पीड़ित लोगों के लिए सहायता प्रदान करना - ये काथलिक राहत सेवाओं (सीआरएस) के कार्य क्षेत्र हैं।

सीआरएस काथलिक संगठनों का समर्थन करता है जो अंतर्राष्ट्रीय राहत और एकजुटता प्रयासों को आगे बढ़ाता है। यह चालीसा के दौरान एक वार्षिक राष्ट्रीय योगदान एकत्र करता है, जिसके माध्यम से काथलिक संयुक्त राज्य अमेरिका और दुनिया भर में सबसे कमजोर लोगों की मदद करते हैं।

संयुक्त राज्य अमेरिका में कई धर्मप्रांतो के लिए, इस वर्ष का संग्रह, "छिपे भेस में येसु की मदद" विषय के तहत 13-14 मार्च को आयोजित किया जाएगा।

एकत्र किये गये संग्रह को अंतर्राष्ट्रीय राहत और विकास के लिए काथलिक राहत सेवाओं (सीआरएस), शरणार्थी एवं पुनर्वास के लिए बने अमेरिकी 'काथलिक धर्माध्यक्षीय सम्मेलन (यूएससीसीबी) के कार्यालय(एमआरएस), यूएससीसीबी अंतर्राष्ट्रीय न्याय और सरकारी नीति पर वकालत के कार्यालय, प्रवासियों एवं शरणार्थियों के लिए कलीसिया में सांस्कृतिक विविधता पर यूएससीसीबी सचिवालय, एशियाई और प्रशांत द्वीप समूह के यात्रियों के प्रेरितिक कार्यालय, काथलिक कानूनी आप्रवास नेटवर्क, आप्रवासियों को कानूनी सहायता के लिए और संत पापा फ्राँसिस के राहत कोष के लिए संग्रह को वितरित किया जाता है।

थोड़ा योगदान, बड़ा प्रभाव

“काथलिक राहत सेवा संग्रह एक मिलियन-डॉलर के प्रभाव को बनाने के लिए छोटे-छोटे उपहारों का संग्रह करता है। यहां तक कि $ 10 दान भी किसी ऐसे व्यक्ति के जीवन को बदल सकता है, जिसे महामारी की शुरुआत होने पर इसकी सख्त जरूरत थी।” सिएटल के महाधर्माध्यक्ष पॉल डी. एटिन्ने ने कहा, वे यूएससीसीबी के राष्ट्रीय संग्रह समिति के अध्यक्ष  हैं।

उनहोंने जोर देकर कहा "आवश्यकता तत्काल है, कोविद -19 महामारी के चल रहे प्रभाव के कारण,पल्ली वासियों के पवित्र मिस्सा में भाग न ले पाने के कारण 2020 के दान चंदे में काफी गिरावट आई। जबकि उस समय लोगों को सबसे ज्यादा जरूरत थी।"

जरूरतमंदों की सेवा

1943 में स्थापित काथलिक राहत सेवा, सीआरएस कई महत्वपूर्ण परियोजनाओं में शामिल रहा है।

उदाहरण के लिए, सीआरएस प्राकृतिक आपदा के बाद परिवारों की सहायता करता है, तो यह भविष्य की समृद्धि को बढ़ावा देने वाले तरीकों से मदद करता है। सीआरएस व्यावसायिक कौशल भी सिखाता है और छोटे किसानों और व्यापारियों को व्यापार के लिए बड़े बाजारों से जोड़ता है। इसके अलावा, यह आघात से तनावग्रस्त दम्पतियों के संबंध को मजबूत करने के लिए परामर्श सेवाएं प्रदान करता है।

प्रवासियों एवं शरणार्थियों के लिए कलीसिया में सांस्कृतिक विविधता पर यूएससीसीबी सचिवालय, वर्तमान में अनधिकृत नाबालिगों के लिए सुरक्षित, सहायक आश्रय प्रदान कर रहा है। एमआरएस संयुक्त राज्य में रिश्तेदारों के साथ बच्चों को फिर से मिलाने की कोशिश करता है और शरणार्थी और आप्रवासन नीतियों के सुधार की वकालत करता है।

महाधर्माध्यक्ष एटीन्ने ने कहा, "यह संग्रह गरीबों और कमजोरों को तत्काल सहायता देता है और उन्हें जीविका के साधन उपलब्ध कराता है।"

“हम उन लोगों के बहुत आभारी हैं, जिन्होंने पिछले साल तकलीफ के समय में साथ दिया। मैं आपसे अब इस पर चिंतन करने और प्रार्थना करने के लिए आमंत्रित करता हूँ कि आप अपने अनुदान द्वारा किस तरह से प्रभु येसु के चेहरे बन सकते हैं जो गरीब और जरुरतमंद हैं।

10 March 2021, 14:18