खोज

Vatican News
मडागास्कर में सन्त पापा फ्राँसिस की यात्रा के अवसर पर अकामासोआ की भेंट, तस्वीर-08.09.2019 मडागास्कर में सन्त पापा फ्राँसिस की यात्रा के अवसर पर अकामासोआ की भेंट, तस्वीर-08.09.2019   (ANSA)

अकामासोआ के फादर ओपेका नोबेल शान्ति पुरस्कार के लिये मनोनीत

मडागाकर के निर्धनों एवं हाशिये पर जीवन यापन करनेवालों के हित में काम करनेवाले काथलिक पुरोहित, लाज़रूस धर्मसमाज के सदस्य फादर पेद्रो ओपेका को नोबेल शांति पुरस्कार के लिये मनोनीत किया गया है।

जूलयट जेनेवीव क्रिस्टफर-वाटिकन सिटी

मडागास्कर, शुक्रवार, 12 फरवरी 2021 (रेई, वाटिकन रेडियो): मडागाकर के निर्धनों एवं हाशिये पर जीवन यापन करनेवालों के हित में काम करनेवाले काथलिक पुरोहित, लाज़रूस धर्मसमाज के सदस्य फादर पेद्रो ओपेका को नोबेल शांति पुरस्कार के लिये मनोनीत किया गया है।   

आर्जेन्टीना एवं स्लोवेनिया के लाज़रूस धर्मसमाजी पुरोहित फादर पेद्रो ओपेका तथा उनके लोकोपकारी संगठन "मैत्री का शहर" जिसका नाम है "अकामासोआ" को स्लोवेनिया के प्रधानमंत्री यानेज़ यान्ज़ा द्वारा नोबेल शांति पुरस्कार के लिये मनोनीत किया गया है।

उत्कृष्ट योगदान

प्रधान मंत्री के अनुसार, "अकामासोआ" संगठन - जिसे फादर ओपेका ने 30 वर्षों पहले स्थापित किया था तथा जिसका, सन्त पापा फ्राँसिस ने सितंबर 2019 में मोजाम्बिक,  मडागास्कर और मॉरीशस की यात्रा के समय दौरा किया था - ने "सामाजिक और मानव विकास" में एक उत्कृष्ट योगदान दिया है तथा मडागास्कर को सतत विकास हेतु 2030 तक रखे गये संयुक्त राष्ट्र के लक्ष्यों को प्राप्त करने में मदद प्रदान की है।  

मडागास्कर के पूर्व प्रधान मंत्री हेरी राजाओनारीमामपियानीना के शब्दों को याद कर उन्होंने कहा कि फादर पेद्रो ओपेका "ग़रीबी के खिलाफ लड़ाई में आशा और विश्वास की एक जीवंत किरण हैं"।

फादर पेद्रो ओपेका

सन् 1948 ई. में आर्जेन्टीना में जन्में फादर पेद्रो ओपेका लाज़रिस्ट अथवा विन्सेसियन धर्मसमाज के सदस्य हैं। सन् 1975 में आपका पुरोहिताभिषेक हुआ था, जिसके बाद से आप मडागास्कर के निर्धनों की सेवा में लग गये थे। सन् 1989 में आप अनतानानारिवो स्थित ईशशास्त्रीय गुरुकुल के प्रधानाचार्य नियुक्त किये गये थे। गुरुकुलाध्क्ष काल में आप शहर की मलिन बस्तियों में निपट निर्धनता और अपने खाने अथवा बेचने के लिये "कचरा बीननेवालों" से रूबरू हुए और तब से ही आपने इन ज़रूरतमन्दों के लिये कुछ करने संकल्प कर लिया था।

अनुपम कार्य

इस समय फादर ओपेका द्वारा स्थापित "अकामासोआ" संगठन निर्धन बच्चों एवं युवाओं को शिक्षा, बीमारों को स्वास्थ्य सेवा, निर्धन परिवारों को रोज़गार एवं आवास आदि की सुविधाएँ प्रदान करने के अनुपम कार्य में संलग्न है।       

सन् 2019 में "अकमासोआ" संगठन की भेंट के अवसर पर सन्त पापा फ्राँसिस ने कहा था कि यह संगठन", ठोस क्रियाओं में अनूदित, जीवन्त आस्था का स्थल है जो, 'पहाड़ों को भी हिलाने' में सक्षम है" और इसकी सफलता से पता चलता है कि "ग़रीबी अपरिहार्य नहीं है"।

12 February 2021, 11:36