खोज

Vatican News
ब्राजील में आक्रे के सेना मादुरेइरो का प्रार्थनालय ब्राजील में आक्रे के सेना मादुरेइरो का प्रार्थनालय  

कलीसिया में ब्राजील ने हजारों बाढ़ पीडितों के लिए अपना द्वार खोला

ब्राजील के पश्चिमी अमाजोन प्रांत में बाढ़ के कारण विस्थापित हजारों परिवारों के लिए कलीसिया ने अपना द्वार खोला।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

ब्राजील, शनिवार, 27 फरवरी 21 (वीएनएस)- ब्राजील के आक्रे में भारी वर्षा ने हजारों परिवारों को बेघर कर दिया है। कोविड-19 महामारी के कारण पहले से ही संकट की स्थिति झेल रहे इस क्षेत्र के गरीब लोग नदी के कनारे बसे हुए हैं। सेना मादुरेईरा, लाको नदी के किनारे है।

कलीसिया की एकात्मता

सेना मादूरेईरा में बाढ़ ने करीब 17 हजार लोगों को प्रभावित किया है। 4 हजार लोगों को सार्वजनिक स्थलों जैसे- खेल मैदान और स्कूलों में शरण दी गई है। काथलिक कलीसिया ने भी उदारता के इस कार्य में भाग लेकर बेघर परिवारों का स्वागत किया है। मेरी के सेवक धर्मसमाज के फादर मोसेस दी ओलिवेइरा कोएलहो एवं नोस्सा सेनहोरा दा कोनचेकाओ पल्ली के पल्ली पुरोहित ने वाटिकन न्यूज से बातें कीं और बतलाया, "हमारे कुछ प्रार्थनालय हैं उन्हें अस्थायी सराय के रूप में प्रयोग किया जा रहा है।"

कलीसिया उन लोगों के लिए दान संग्रह भी कर रही है जिन्होंने अपना सब कुछ खो दिया है। फादर मोसेस ने बतलाया कि "भले समारी का कार्य" पहल जारी किया गया है जिसे स्थानीय सरकार के सहयोग से उदारता अभियान के रूप में जारी किया गया है। उन्होंने कहा कि पल्ली भोजन, जूते, कपड़े और व्यक्तिगत सफाई के समान इकट्ठा कर रहे हैं। "हम हमारे विश्वासियों और भले लोगों से दानसंग्रह करते और भोजन तैयार करते एवं आश्रय स्थलों में जाकर लोगों को बांटते हैं।"  

भविष्य की ओर देखना

स्थानीय कलीसिया की उदारता वर्तमान आश्यकता तक ही सीमित नहीं है बल्कि यह भविष्य के बारे भी सोच रही है जब लोग घर लौटेंगे। इसके लिए फादर मोसेस ने कहा कि वे अनुदान राशि में से कुछ अलग रख रहे हैं। उन्होंने बतलाया, "हमने एक खाता खोला है ताकि जब बाढ़ समाप्त हो जाए, तब हम परिवारों को सफाई सामग्री, व्यक्तिगत स्वच्छता के समान एवं मौलिक आवश्यकताओं को खरीदने में मदद दे सकेंगे।"

आक्रे में संकट

आक्रे राज्य के क्षेत्रीय नदी में आयी बाढ़ ने राजधानी रियो ब्रांको, क्रूजेरियो दी सुल एवं ताराजौका फाईजो, संता रोसा दी पुरूस और रोड्रिगेज अलवेस में समस्या उत्पन्न कर दी है। आपातकाल का सामना करने के लिए सभी पब्लिक एजेंसियाँ चौकस हैं और खतरे में पड़े लोगों को राहत पहुँचा रहे हैं।

राज्य के अधिकारियों ने विस्थापित लोगों को 23 अस्थायी आश्रय उपलब्ध कराया है और पिछले सप्ताह 500 से अधिक भोजन पार्सल प्रदान किया। करीब 1,20,000 लोग प्रभावित हैं। 32 हजार से अधिक परिवार खराब मौसम से तबाह हैं। आक्रे में स्वास्थ्य की स्थिति भी कोविड-19 महामारी, डेंगू और मलेरिया के कारण लोग मुश्किल स्थिति में है। संक्रमण और अस्पताल में भर्ती होनेवालों की संख्या भी बढ़ गयी है और इसके कारण अस्पतालों में बहुत दबाव बना हुआ है।

 

27 February 2021, 13:16