खोज

Vatican News
टाईग्रे प्रांत में संघर्ष के बाद पलायन करते लोग टाईग्रे प्रांत में संघर्ष के बाद पलायन करते लोग  (AFP or licensors)

ब्रिटिश धर्माध्यक्षों द्वारा यूके सरकार से टाईग्रे में शांति हेतु अपील

इंगलैंड एवं वेल्स के धर्माध्यक्षों ने इथोपिया के टाईग्रे प्रांत में हिंसा से प्रभावित लोगों की मदद एवं शांति प्रयास हेतु सरकार से एक आवश्यक अपील की है।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

टाईग्रे, बृहस्पतिवार, 4 फरवरी 21 (वीएनएस)- इथोपिया के टाईग्रे प्रांत में, टाईग्रे के प्रांतीय सरकार एवं इथोपिया संघीय सरकार के बीच पिछले साल नवम्बर माह में शुरू हुए संघर्ष के कारण मानवीय स्थिति बिगड़ती ही जा रही है।

करीब 1 मिलियन लोग पलायन कर चुके हैं और जो एजेंसियाँ वहाँ काम कर रही हैं उन्होंने बड़े पैमाने पर भुखमरी की चेतावनी दी है।

वर्तमान संकट को देखते हुए इंगलैंड एवं वेल्स के धर्माध्यक्षों ने बढ़ते भय पर अपनी आवाज दी है।

हिंसा एवं भूखमरी

अफ्रीका के मुख्य बिशप धर्माध्यक्ष पौल स्वार्कब्रीक ने यूके की सरकार को, इथोपिया के टाईग्रे प्रांत में हिंसा से प्रभावित लोगों की मदद एवं शांति प्रयास हेतु आगे आने की अपील की है।

मंगलवार को अफ्रीका की प्रेरिताई हेतु नियुक्त धर्माध्यक्ष स्वार्कब्रीक ने इथोपिया की स्थानीय कलीसिया को प्रेषित एक पत्र में अपनी एकात्मता व्यक्त की है तथा अत्याचार करनेवालों को चेतावनी दी है।

उन्होंने लिखा है, "हम विशेष रूप से व्यापक यौन हिंसा की रिपोर्टों से चिंतित हैं और कमजोर समूहों, विशेषकर, महिलाओं और लड़कियों की सुरक्षा सुनिश्चित करने की तत्काल अपील करते हैं।"

धर्माध्यक्षों को रिपोर्ट मिली है कि लोग भोजन, पानी, दवाई और अन्य आवश्यक चीजों के अभाव में प्रतिदिन मर रहे हैं। धर्माध्यक्ष स्वार्कब्रीक ने कहा है कि ऐसी स्थिति में "बाधाओं से लड़ने के लिए मानवीय एजेंसियों को उन लोगों तक पहुंचने से रोका जा रहा है जो लड़ाई से भाग गए हैं।"

आवश्यक अपील

धर्माध्यक्ष ने यूके की सरकार से अपील करते लिखा है, "मुझे उम्मीद है कि आप पड़ोसी देशों के साथ-साथ, शरणार्थियों के सुरक्षित आवास के आसपास अंतरराष्ट्रीय कानून का सम्मान करते हुए, संघर्ष में हर पक्ष के सर्वोपरि महत्व को दोहरायेंगे।"

 

04 February 2021, 15:26