खोज

Vatican News
एक आवासहीन व्यक्ति एक आवासहीन व्यक्ति 

गरीब व बेघर लोगों की मदद पर, यूएस धर्माध्यक्षों द्वारा सरकार का समर्थन

अमरीका धर्माध्यक्षों ने बाइडन प्रशासन को गरीबों एवं बेघर लोगों की मदद को प्रोत्साहन देने पर, उसे शाबाशी दी है।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

अमरीका, बृहस्पतिवार, 28 जनवरी 21 (वीएनएस)- संयुक्त राज्य अमेरिका के रोग नियंत्रण एवं रोकथाम केंद्र तथा कृषि विभाग ने महामारी के इस समय में, आवास की समस्या और खाद्य असुरक्षा का सामना कर रहे लोगों की सुरक्षा एवं मदद को बल प्रदान किये जाने की घोषणा की है।

सरकार के इस निर्णय पर, अमरीकी काथलिक धर्माध्यक्षीय सम्मेलन के न्याय एवं मानव विकास आयोग के अध्यक्ष महाधर्माध्यक्ष पौल एस. कोक्ले ने अपनी कृतज्ञता व्यक्त की है जिसका उद्देश्य है कोविड-19 महामारी के समय में कठिनाईयों का सामना करनेवालों के भोजन और आवास जैसी अति आवश्यक जरूरतों पर ध्यान देना।

धर्माध्यक्ष ने खासकर निष्कासन पर रोक पर गौर करते हुए कहा है कि "यह आवास की स्थायित्व सुनिश्चित करने एवं हमारे समुदायों को सुरक्षित रखने की ओर बढ़ाया गया कदम है।" उन्होंने कहा, "लाखों लोग अपने घर का किराया नहीं चुका पा रहे हैं, बिना सुरक्षा के वे अपने घरों को खोने की जोखिम में पड़ सकते हैं। लेकिन यह सभी के लिए हानिकारक होगा यदि सार्वजनिक स्वास्थ्य संकट के बीच अधिक लोग बेघर हो जायेंगे।"

महाधर्माध्यक्ष कोक्ले ने कहा कि इसी तरह कम आमदनी एवं बेरोजगारी के संकट से परेशान लोगों के लिए भोजन सहायता को बढ़ाने की घोषणा, "नाबालिगों के बीच भूख के अभूतपूर्व स्तर का सामना करने में योगदान देगा और यह सुनिश्चित करेगा कि आपातकालीन भोजन सहायता सबसे अधिक जोखिम वाले लोगों तक पहुंचे"।

उन्होंने जोर देते हुए कहा कि ये कदम हैं जो जरूरत में पड़े लोगों के प्रति दृढ़ प्रतिबद्धता को दिखलाते हैं, और याद किया कि अमरीकी धर्माध्यक्षों ने हमेशा प्रकाश डाला है कि पर्याप्त पोषण एवं उचित आवास मौलिक अधिकार हैं जिसके बारे काथलिक सामाजिक शिक्षा में भी कही गई है। यही कारण है कि हम सरकार से मांग करते है कि सार्वजनिक भलाई पर ध्यान दे एवं गरीब और कमजोर लोगों को प्राथमिकता दे, खासकर, इस कठिन समय में।  

इस बीच, अमरीका में कोरोना वायरस के मामले 25 मिलियन तक पहुँच गये हैं जिनमें से 4,30,000 लोगों की मौत हो गई है। सीएनएन में प्रस्तुत जॉन्स हॉपकिन्स यूनिवर्सिटी की रिपोर्ट अनुसार कल संक्रमन के 1,52000 नये मामले दर्ज हुए और 4 हजार लोगों की मौत हो गई। इस बीच वैक्सिन लेने का आंदोलन जारी है। देश में कुल 47 मिलियन डोज का वितरण किया गया है तथा 26 मिलियन से अधिक लोगों को वैक्सिन दिया जा चुका है।

28 January 2021, 15:01