खोज

Vatican News
 पवित्र बाईबिल पवित्र बाईबिल 

आगमन काल में संत मारकुस रचित सुसमाचार का पाठ करने हेतु निमंत्रण

स्पेन के काथलिक धर्माध्यक्षीय सम्मेलन के अध्यक्ष एवं बरसेलोना के महाधर्माध्यक्ष कार्डिनल जुवन जोश ओमेल्ला ने काथलिक पाठकों को निमंत्रण दिया गया है कि वे आगमन काल में प्रत्येक दिन क्रिसमस तक संत मारकुस रचित सुसमाचार का एक अध्याय पढ़ें।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

स्पेन, मंगलवार, 1 दिसम्बर 2020 (वीएन)- नये पूजन पद्धति वर्ष की शुरूआत पर 29 नवम्बर को स्पेन के काथलिक धर्माध्यक्षीय सम्मेलन के अध्यक्ष एवं बरसेलोना के महाधर्माध्यक्ष कार्डिनल जुवन जोश ओमेल्ला ने एक पत्र प्रकाशित किया। पत्र का शीर्षक है, "नया पूजन पद्धित वर्ष" जिसको महाधर्मप्रांत के वेबसाईट पर प्रकाशित किया गया है। इसके द्वारा काथलिक पाठकों को निमंत्रण दिया गया है कि वे आगमन काल में प्रत्येक दिन क्रिसमस तक संत मारकुस रचित सुसमाचार का एक अध्याय पढ़ें।

कार्डिनल ने बतलाया है कि सुसमाचार हमें किस तरह ईश्वर के रहस्य में, येसु ख्रीस्त को जानने, उनसे मित्रता स्थापित करने और उनका अनुसरण करने के द्वारा प्रवेश करने में मदद देता है। यही कारण है कि कलीसिया पूजन पद्धति वर्ष के दौरान निमंत्रण देती है कि हम ईश्वर के रहस्य को, ईश वचन के पाठों एवं पर्वों के द्वारा पूरा करें।

कार्डिनल ओमेल्ला ने संदेश में कहा है कि "नया पूजन पद्धति वर्ष जिसकी शुरूआत हम आज कर रहे हैं, इस रविवार की एक विलक्षण विशेषता है कि इसके सुसमाचार पाठ को संत मारकुस रचित सुसमाचार से लिया गया है।"

इस आगमन काल में संत मारकुस रचित सुसमाचार की गहराई में उतरने के लिए बरसेलोना के महाधर्माध्यक्ष ने विश्वासियों के सामने तीन प्रस्ताव रखे। पहला, घर में बाईबिल को खोलना तथा संत मारकुस रचित सुसमाचार के प्रकाशक की परिचयात्मक टिप्पणी को पढ़ना; दूसरा, धर्मप्रांत के वेबसाईट पर बाईबिल के विभिन्न विशेषज्ञों के लेखों को पढ़ना, जो काथलिकों को आगमन काल में संत मारकुस रचित सुसमाचार में घुसने में मदद देगा; और तीसरा, व्यक्तिगत अथवा परिवार में संत मारकुस रचित सुसमाचार के एक अध्याय को हरेक दिन पढ़ना। इस तरह क्रिसमस महापर्व तक पूरा सुसमाचार को पढ़ सकते हैं।

कार्डिनल ने सभी विश्वासियों को आगमन काल की शुभकामनाएँ देते हुए कहा है, "मैं आप सभी को एक पवित्र और गहन आगमन की शुभकामनाएँ देता हूँ जो हृदय को शारीरधारण के रहस्य एवं बेतलेहेम में ख्रीस्त के जन्म को मनाने के लिए तैयार करता है।"

01 December 2020, 16:30