खोज

Vatican News
मेजोगोरे में तीर्थयात्री मेजोगोरे में तीर्थयात्री 

मेरी मील की वर्चुवल तीर्थयात्रा का केंद्र वैश्विक रोजरी प्रार्थना

विश्व स्कूल उदार मेरी भोजन खिलाने वाले संगठन के सदस्य 13 नवम्बर से 15 नवम्बर तक वर्चुवल रूप में एक तीर्थयात्रा में भाग ले रहे हैं।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, शनिवार, 14 नवम्बर 20 (वीएन)- इस साल, कोरोना वायरस महामारी ने दुनिया को उलाटकर रख दिया है जो फैलता ही जा रहा है। फिर भी, कई देशों में प्रतिबंधों एवं तालाबंदी के बावजूद तीर्थयात्रा नहीं रूकी है और वर्चुवल रूप में जारी है।

इस साल पहली बार है जब विश्व स्कूल उदार मेरी भोजन खिलाने वाले संगठन ने वर्चुवल परिवार तीर्थयात्रा का आयोजन किया है।

2017 से ही चैरिटी के सदस्य बोसिन्या हेरजेगोविना के मेजोगोरी मरियम तीर्थ पर  चिंतन, प्रार्थना और धन्यवाद अर्पित करने के लिए एक साथ आते हैं, जिसका मूल है उदारता।

इस बार कार्यक्रम यद्यपि वर्चुवल होगा, विश्वभर के प्रतिभागी विभिन्न भाषाओं में एक साथ रोजरी प्रार्थना करेंगे।

मेरी मील के संचालक एवं संस्थापक मन्युस मकफारलेन बारो ने कहा, "यह थोड़ा कठिन था, अत्यन्त दुखद प्रतीत हो रहा था जब हमने जाना कि हम इस साल इसे (तीर्थयात्रा) शारीरिक रूप से नहीं कर सकते। तब मेरी पत्नी जुली कहने लगी, क्यों न हम इसे ऑनलाईन करें?"

"शुरू में मैंने सोचा कि यह थोड़ा पागलपन वाला विचार है, मैं सचमुच ऐसी तीर्थयात्रा की कल्पना नहीं कर सकता था जिसमें हम शारीरिक रूप से यात्रा न करें, किन्तु मैंने इस पर अधिक विचार किया, कि इस परिस्थिति में जब हम सभी अंदर हैं, तब ऐसा ही क्यों न किया जाए।

ग्लोबल रोजरी

उन्होंने कहा कि वे इस समय वैश्विक रोजरी के लिए सबसे अधिक उत्साहित हैं जिसको अफ्रीका और भारत के बच्चे करेंगे और रोम, पोलैंड, म्यनमार और हैती के प्रतिभागी शामिल होंगे। बारो ने इस बात की ओर भी इंगित किया कि तीर्थयात्रा में दो भाषाएँ होंगी जो दक्षिणी सूडान की दो जातियों को दर्शायेंगी जिनका इतिहास संघर्षों का रहा है। वे भी शांति के लिए एक साथ रोजरी करेंगे।

तीर्थयात्रा में पवित्र मिस्सा और पवित्र घड़ी में ऑनलाईन भाग लेने का अवसर होगा तथा शांति की रानी कुँवारी मरियम को धन्यवाद दिया जाएगा, जिसको मेजोगोरे के संत जेम्स पल्ली द्वारा प्रसारित किया जाएगा।

तीर्थयात्रा में शुक्रवार को उपवास करने का समय था ताकि 1.6 मिलियन भूखे बच्चों के प्रति एकात्मता प्रकट किया जा सके जो प्रतिदिन अपना खाना स्कूल में उदार मेरी भोजन प्रोग्राम से प्राप्त करते हैं।

वर्चुवल तीर्थयात्रा

इस सच्चाई के बावजूद कि कोविड-19 ने बहुतों के जीवन में कहर ढाया है बारो ने इस बात पर गौर किया कि कभी-कभी जब हम इसमें रास्ता पाते हैं –तब यह नया अवसर खोल देता है जिसके बारे हम सभी सोचे नहीं होते। किन्तु उन्होंने इस बात की ओर ध्यान आकृष्ट किया कि यद्यपि अवसर जिसको नयी तकनीकी ने प्रदान की है हमारे लिए एक बड़ा वरदान है फिर भी, मानवीय सम्पर्क का स्थान कोई भी नहीं ले सकता।

बारो ने जोर दिया कि वर्चुवल तीर्थयात्रा सभी के लिए खुला है जो प्रार्थना में भाग लेना चाहते हैं चाहे वे किसी भी आस्था से क्यों न हों या मेरी मील से पहले कभी जुड़े रहे हों। जो कोई भी इस साल की मेरी मील परिवार तीर्थयात्रा में भाग लेना चाहते हैं वे इस पते पर लाईव जुड़ सकते हैं www.marysmealsmedjugorje.org.

मेरी मील, प्रतिदिन स्कूल भोजन कार्यक्रम के द्वारा 19 देशों के बच्चों को भोजन उपलब्ध कराता है।

जब वैश्विक महामारी के बीच स्कूलों में वापसी हो रही है, मेरी मील स्थानीय समुदायों और जहाँ संभव हो, वहाँ स्कूल भोजन के साथ सुरक्षा उपायों को ध्यान में रखते हुए विश्वस्त साझेदारों के साथ कार्य कर रहा है। जहाँ स्कूल बंद हैं उन स्थानों में समुदायों में भोजन वितरण किया जा रहा है।

14 November 2020, 15:06