खोज

Vatican News
मनिला में 1669 ई. में निर्मित ऐतिहासिक गिरजाघर मनिला में 1669 ई. में निर्मित ऐतिहासिक गिरजाघर  (ANSA)

फिलिपींस 2021 में मनायेगा ख्रीस्तीय धर्म का 500 साल

14 अप्रैल 2021 को फिलिपीन्स अपने देश में पहले बपतिस्मा की यादगारी मनायेगा जिसको उसने 500 वर्षों पहले ग्रहण किया था। महाधर्माध्यक्ष चेबू ने साल 2021 को ख्रीस्तीयता का वर्ष घोषित किया है। समारोह की विषयवस्तु है, "मुफ्त में मिला है मुफ्त में देने के लिए" (मती.10,8)

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

मनिला, मंगलवार, 6 अक्तूबर 2020 (एशियान्यूज) – महामारी के कारण फिलिपींस में ख्रीस्तीय धर्म के आगमन के 500 साल पूरा होने के उत्सव को अगले साल के लिए स्थगित कर दिया गया है। इसकी जानकारी फिलिपींस के काथलिक धर्माध्यक्षीय सम्मेलन के कार्यकारी अध्यक्ष कालूकन के धर्माध्यक्ष पाब्लो विर्जिलियो डेविड ने दी।

उन्होंने कहा कि यह निर्णय देश में कोरोना वायरस महामारी की बढ़ती स्थिति को ध्यान में रखते हुए लिया गया है। "कोविड-19 महामारी से उत्पन्न संकट के कारण यह आवश्यक था कि ख्रीस्तीय धर्म के 500 साल के समारोह की सूची में बदलाव लाया जाए।"

मुख्य समारोह अप्रैल 2021 को मनाया जाएगा और सालभर मनाये जानेवाले समारोह का उद्घाटन किया जाएगा। फिलिपींस के लिमासावा द्वीप में पास्का रविवार को प्रथम ख्रीस्तयाग अर्पित किये जाने की यादगारी में यह समारोह मनाया जाएगा।

फिलीपींस में ख्रीस्तीय धर्म का प्रसार

पुर्तगाली खोजकर्ता फर्डिनेंड मैगलन के आगमन के साथ 1521 में फिलीपींस में ख्रीस्तीय धर्म का प्रसार हुआ था, जिसने पश्चिम नौकायन द्वारा पूर्व तक पहुंचने के अभियान के रूप में, और फिलीपींस में धर्म की शुरुआत के प्रतीक स्वरूप पवित्र क्रूस स्थापित किया था।

महामारी के कारण अन्य समारोहों को भी पुनः सूचीवद्ध किया गया है। अंतरराष्ट्रीय मिशन कॉन्ग्रेस और द्वितीय राष्ट्रीय मिशन कॉन्ग्रेस को अप्रैल 2022 के लिए स्थगित कर दिया गया है।

फिलिपींस के काथलिक धर्माध्यक्षीय सम्मेलन के कार्यकारी अध्यक्ष ने 4-6 अगस्त 2021 को याजकों के लिए आयोजित राष्ट्रीय आध्यात्मिक साधना को भी रद्द कर दिया है।

उन्होंने कहा कि वर्तमान संकट के कारण सम्मेलन के विभिन्न आयोग अपनी योजनाओं में सुधार लायेंगे। फिलिपींस में करीब 80 प्रतिशत लोग ख्रीस्तीय हैं और जिनमें काथलिकों की संख्या सबसे अधिक है।

06 October 2020, 15:46