खोज

Vatican News
यूरोप के काथलिक धर्माध्यक्षों के साथ सन्त पापा फ्राँसिस, वाटिकन में, तस्वीरः 2019 यूरोप के काथलिक धर्माध्यक्षों के साथ सन्त पापा फ्राँसिस, वाटिकन में, तस्वीरः 2019  

सम्पूर्ण विश्व के भावी निर्माण हेतु यूरोप का आह्वान

यूरोप के काथलिक धर्माध्यक्षीय सम्मेलनों के संघ कॉमेक के अध्यक्ष कार्डिनल जाँ क्लाऊड हॉल्लेरिख़ ने यूरोप को प्रेषित सन्त पापा फ्राँसिस के पत्र पर टीका कर कहा है कि सम्पूर्ण विश्व के लिये एक बेहतर विश्व की रचना यूरोप का मिशन है।

जूलयट जेनेवीव क्रिस्टफर-वाटिकन सिटी

ब्रसल्स, शुक्रवार, 30 अक्टूबर 2020 (वाटिकन न्यूज़): यूरोप के काथलिक धर्माध्यक्षीय सम्मेलनों के संघ कॉमेक के अध्यक्ष कार्डिनल जाँ क्लाऊड हॉल्लेरिख़ ने यूरोप को प्रेषित सन्त पापा फ्राँसिस के पत्र पर टीका कर कहा है कि सम्पूर्ण विश्व के लिये एक बेहतर विश्व की रचना यूरोप का मिशन है।  

एकात्मता एवं भ्रातृत्व का आह्वान

इस सप्ताह सन्त पापा फ्राँसिस ने वाटिकन राज्य सचिव कार्डिनल पियेत्रो पारोलीन के द्वारा यूरोप को भेजे पत्र में यूरोपीय इतिहास एवं मूल्यों का स्मरण दिलाया जिनकी नींव पर यूरोप खड़ा है। वैयक्तिकवाद से भरे विश्व में उन्होंने राष्ट्रों के बीच एकात्मता एवं भ्रातृत्व का आह्वान किया।

सन्त पापा के पत्र पर टीका करते हुए कार्डिनल हॉल्लेरिख ने कहा, एक शांतिपूर्ण भविष्य के निर्माण के प्रयास में संलग्न, यूरोप को, अपने भाइयों और बहनों की जरूरतों को बेहतर तरीके से पूरा करने के लिए नई नीतियों की आवश्यकता है तथा अपनी ख्रीस्तीय पहचान एवं अस्मिता को फिर से परिभाषित करने की आवश्यकता है।

वाटिकन रेडियो से बातचीत में कार्डिनल हॉल्लेरिख़ ने इस बात पर हर्ष व्यक्त किया कि यूरोपीय महाद्वीप के न होने के बावजूद भी सन्त पापा फ्राँसिस में यूरोप की गहन एवं अद्भुत समझ है, जो यूरोप के नेताओं को प्रोत्साहन दे सकती है।  

नीतियों पर विचार आवश्यक

कार्डिनल ने कहा कि "बहुत सी" नीतियों पर विचार करने की आवश्यकता है। सन्त पापा फ्राँसिस के पत्र से लिये "भविष्य का यूरोप", वाक्याँश का उल्लेख करते हुए उन्होंने कहा कि विभिन्न कारणों से अपने देशों को छोड़ने के लिये मजबूर आप्रवासियों की मदद करना तथा उनका स्वागत करना हम सब का दायित्व है। 

विगत कुछेक दिनों के समाचारों का उल्लेख कर कार्डिनल हॉल्लेरिख़ ने कहा यूरोपीय सीमा और तट रक्षक एजेंसी, फ्रॉन्टेक्स द्वारा "ग्रीक सीमा पर, लोगों को वापस भूमध्य सागर में, लीबिया की सीमा के बगल में धकेलना" मानवता नहीं है।

संस्थापकों की भावना को याद करें

उन्होंने कहा कि यूरोपीय संघ के नेताओं को यूरोप के संस्थापकों की भावना को एक बार फिर महसूस करना होगा तथा याद करना होगा कि उन्होंने किन मूल्यों पर यूरोपीय संघ की आधार शिला रखी थी।

 

30 October 2020, 11:19