खोज

Vatican News
तमिल नाड के सिवागंगाय के एक स्कूल में, प्रतीकात्मक तस्वीर तमिल नाड के सिवागंगाय के एक स्कूल में, प्रतीकात्मक तस्वीर 

सन्त पापा ने किया सिवागंगाय के धर्माध्यक्ष का त्याग पत्र स्वीकार

सन्त पापा फ्राँसिस ने तमिल नाड स्थित सिवागंगाय धर्मप्रान्त के प्रेरितिक प्रशासक धर्माध्यक्ष जेबामलाय सूसायमानिकम द्वारा प्रस्तुत त्याग पत्र को स्वीकार कर लिया है।

जूलयट जेनेवीव क्रिस्टफर-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, शुक्रवार, 25 सितम्बर 2020 (रेई,वाटिकन रेडियो): सन्त पापा फ्राँसिस ने तमिल नाड स्थित सिवागंगाय धर्मप्रान्त के प्रेरितिक प्रशासक धर्माध्यक्ष जेबामलाय सूसायमानिकम द्वारा प्रस्तुत त्याग पत्र को स्वीकार कर लिया है।

सिवागंगाय धर्मप्रान्त

तमिल नाड के सिवागंगाय धर्मप्रान्त की रचना सन् 1987 में हुई थी। यह मदुरई शहर से 45 किलो मीटर की दूरी पर स्थित है तथा मदुरई महाधर्प्रान्त के ही अधीन आता है। धर्माध्यक्ष एडवर्ड फ्राँसिस सिवागंगाय के प्रथम धर्माध्यक्ष थे तथा धर्माध्यक्ष जेबामलाय सूसायमानिकम इसके दूसरे धर्माध्यक्ष थे। सन् 1971 में आपका पुरोहिताभिषेक सम्पन्न हुआ था तथा पहली अप्रैल, सन् 2005 को आप सिवागंगाय के धर्माध्यक्ष नियुक्त किये गये थे।      

25 September 2020, 10:56