खोज

Vatican News
इटली के पलेरमों में आप्रवासियों को खाना बांटते एक स्वयंसेवक इटली के पलेरमों में आप्रवासियों को खाना बांटते एक स्वयंसेवक  (AFP or licensors)

शांति प्रयास के केंद्र में व्यक्ति को रखा जाए, ईयू एवं एयू से अपील

कारितास अफ्रीका और कारितास यूरोप ने यूरोपीय संघ और अफ्रीकी नेताओं (ईयू एवं एयू) से अपील की है कि वे यूरोपीय संघ-अफ्रीका संबंधों के लिए एक नया ढांचा अपनायें।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, मंगलवार, 22 सितम्बर 2020 (वीएन)- अंतराष्ट्रीय शांति दिवस पर 21 सितम्बर को प्रेषित संदेश में कारितास अफ्रीका एवं कारितास यूरोप ने कहा कि "स्थानीय शांति और सुरक्षा प्रयास में व्यक्ति को केंद्र में रखा जाए।"

दोनों संगठनों ने भावी साझेदारी की जोखिम पर चिंता जतायी है तथा इस साल की विषयवस्तु "एक साथ शांति का निर्माण" से प्रेरित होने पर जोर दिया है।    

समावेशी प्रक्रियाओं के माध्यम से शांति का निर्माण

उन्होंने नेताओं से अपील की है कि यूरोपीय संघ-अफ्रीका का आगामी 6वां शिखर सम्मेलन, वास्तव में समावेशी प्रक्रियाओं के माध्यम से शांति निर्माण के व्यवहारिक रास्ते लिए समर्पित हो।

आगामी शिखर सम्मेलन 28-29 अक्टूबर 2020 को आयोजित की गई है जब दोनों दलों के नेताओं से उम्मीद की जा रही है कि अगले कुछ सालों तक यूरोपीय संघ एवं अफ्रीका के बीच संबंधों के लिए प्राथमिकताओं तथा ठोस कारर्वाई पर संयुक्त घोषणा को स्वीकृति प्रदान करेंगे, जिसमें शांति और सुरक्षा के मुद्दे भी शामिल होंगे। यूरोपीय संघ एवं अफ्रीका का पिछला शिखर सम्मेलन 2017 में आयोजित किया गया था।

वाटिकन रेडियो से बातें करते हुए कारितास यूरोप की अधिवक्ता लुईसा फोंदेल्लो ने कहा, "हमारे लिए इस नई रणनीति के मूल में लोगों को रखना उच्च प्राथमिकताओं में से एक है।" उन्होंने कहा, "शांति के संदर्भ में यह स्थानीय समुदायों की क्षमता के निर्माण और सामाजिक सामंजस्य सुनिश्चित करने के बारे में है क्योंकि यह इस इमारत का एक मजबूत घटक है, जबकि कभी-कभी इसे अनदेखा कर दिया जाता है।"

कारितास यूरोप और कारितास अफ्रीका इंगित करता है कि 2030 के एजेंडा एवं व्यक्ति केंद्रित साझेदारी बनाने के प्रति यूरोपीय संघ की प्रतिबद्धता के बावजूद भविष्य की साझेदारी के लिए यूरोपीय संघ के संस्थानों के पिछले बयानों ने राज्य की सुरक्षा पर लगातार अधिक ध्यान केंद्रित किया है।

स्थानीय समुदाय की सहभागिता

कारितास यूरोप एवं कारितास अफ्रीका दोनों ने यूरोपीय संघ एवं अफ्रीका के नेताओं से अपील की है कि वे स्थानीय समुदाय की सहभागिता तथा शांति निर्माण के प्रयास में विश्वासियों के महत्व को समझें।

22 September 2020, 14:01