खोज

Vatican News
बेलारूस में प्रदर्शन बेलारूस में प्रदर्शन  (ANSA)

मिंस्क के महाधर्माध्यक्ष ने तनाव के बीच वार्ता एवं प्रार्थना की अपील की

बेलारूस में राष्ट्रपति चुनाव को लेकर तनाव जारी है। मिंस्क में, पुलिस ने सिटी सेंटर के पास जमा भीड़ को तितर-बितर करने के लिए हथगोलों का इस्तेमाल किया, जिसकी वजह से कुछ लोगों के घायल होने की ख़बरें आई हैं।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

बेलारूस, बृहस्पतिवार, 13 अगस्त 2020 (वीएन)- बेलारूस में राष्ट्रपति चुनाव को लेकर तनाव जारी है। मिंस्क में, पुलिस ने सिटी सेंटर के पास जमा भीड़ को तितर-बितर करने के लिए हथगोलों का इस्तेमाल किया, जिसकी वजह से कुछ लोगों के घायल होने की ख़बरें आई हैं।

मिंस्क के महाधर्माध्यक्ष तादेयुज कोनड्रूसिविक्ज ने लोगों से प्रार्थना एवं वार्ता की अपील की है। मुख्य विपक्षी उम्मीदवार स्वेतलाना तिखानोव्सना के लितवानिया चले जाने के बाद भी बेलारूस में तनाव जारी है।

सरकार विरोधी प्रदर्शनकारियों ने मंगलवार रात को प्रदर्शन कर राष्ट्रपति चुनाव परिणाम की निंदा की थी और स्वतंत्र एवं पारदर्शी चुनाव का आह्वान किया था।

बेलारूस की पुलिस ने करीब 1,000 प्रदर्शनकारियों को हिरासत में ले लिया था और बेलारूस के अंतरिम मंत्री ने बतलाया कि रातभर विरोध प्रदर्शन के दौरान 51 प्रदर्शनकारियों और 14 पुलिस अधिकारियों को चोट लगी थी।

बेलारूस के राष्ट्रपति अलेक्जेंडर लुकाशेंको ने लगभग 80 प्रतिशत वोट हासिल कर जीत की घोषणा की है, जिसके कारण सुरक्षा बलों और विपक्षी समर्थकों के बीच दो रातों को हिंसक झड़पें हुईं जिसमें एक प्रदर्शनकारी मारा गया।

बेलारूस के स्वास्थ्य अधिकारी की रिपोर्ट अनुसार 200 से अधिक लोगों को घायल होने के बाद अस्पतालों में भर्ती किया गया है और कुछ लोगों को सर्जरी भी कराना पड़ा है।

राजनीतिक दमन और घटती अर्थव्यवस्था के वर्षों में निराशा की गहरी भावना से अशांति फैल गई है। विपक्षी उम्मीदवार स्वेतलाना तिखानोव्सना ने मंगलवार को कहा कि वे अपने बच्चों के लिए पड़ोसी देश लितवानिया भाग गई हैं और अपील की है कि प्रदर्शन रोक दिया जाए।

स्वेतलाना एक पूर्व अंग्रेजी शिक्षक, जिसने अपने पति के बेलारूस में जेल जाने के बाद चुनाव में भाग लिया था, एक वीडियो में अपने समर्थकों से माफी मांगी है और कहा है कि देश छोड़ना उनका अपना निर्णय है। उन्होंने कहा, "यह एक बहुत कठिन चुनाव था।"

यूरोप में प्रतिक्रिया

मंगलवार को यूरोपीय संघ के विदेश नीति के प्रमुख जोसेप बोरेल ने रविवार के चुनाव के बाद प्रदर्शनकारियों के खिलाफ बेलारूसी अधिकारियों द्वारा "अपमानजनक" हिंसा की निंदा की और कहा कि यूरोपीय संघ अनिर्दिष्ट कदम उठा सकता है।

इस बीच, स्वीडेन की विदेशमंत्री अन्न लिंडे ने बुधवार को कहा कि यूरोपीय संघ के विदेशमंत्री बेलारूस के खिलाफ लक्षित प्रतिबंधों पर चर्चा करने के लिए शुक्रवार को मिलेंगे।

प्रार्थना और वार्ता

मिंस्क के महाधर्माध्यक्ष तादेयुज़ कोनड्रूसिविज ने बेलारूस के लोगों से अपील की है कि प्रेसीडेनसी और विपक्षी के आमने-सामने आने के लिए वे कोई शांतिपूर्ण तरीका खोजें। महाधर्माध्यक्ष ने लोगों से शांति के लिए वार्ता और प्रार्थना की अपील की है।

13 August 2020, 15:30